Home > Archived > VIDEO : बेड़ियों में जकड़ी बेटी, बेरहम पिता की करतूत

VIDEO : बेड़ियों में जकड़ी बेटी, बेरहम पिता की करतूत

आंसुओं में डूबी रुकसाना की जिदंगी...?

 Arun Mishra |  8 Nov 2017 5:47 AM GMT  |  New Delhi

VIDEO : बेड़ियों में जकड़ी बेटी, बेरहम पिता की करतूत

कौशाम्बी : पिता के कहर का शिकार रुकसाना की जिदंगी नरक हो चुकी है। घुटन भरी जिदंगी जीने को मजबूर रुकसाना रात-दिन आंसू बहाती हैं, लेकिन इन आंसुओं को पोछने वाला कोई नहीं है। उसकी अश्कबार आंखें उसका दर्द चीख-चीख कर बयां कर रहे हैं, लेकिन न तो पिता को सुनाई दे रहा है, न ही रजऊ का पुरवा गांव के लोगों को। रुकसाना को भी नहीं पता है कि आखिर उसे किस गुनाह की यह सजा दी जा रही है। उसकी उम्र की बेटियां गांव में सखी-सहेलियों के साथ दिन भर खेलती-कूदती हैं और वह जिंदा कठपुतली बनी पिता के इशारों पर घर के कोने-कोने नाच रही है।


रुखसाना से जंजीरों में कैद कर रखे जाने की जानकारी लोकल थाने कौशाम्बी को देकर जब हमने उसे इन्साफ दिलाने की कोशिस की तो यहाँ भी यूपी पुलिस का केवल ढुलमुल रवैया ही सामने आया। सूचना पाकर कौशाम्बी थाने के दो पुलिस वाले मौके पर पहुचे, लेकिन वह भी केवल पूंछ-तांछ और कागजी कार्यवाही तक ही सीमित हो कर रह गए। रुखसाना को उसके बेरहम पिता की कैद से आजाद करने की जगह पुलिस वाले कागज़ी कार्यवाही करे मौके से चलते बने।

जानवरों से भी बदत्तर जिंदगी जीने को मजबूर कौशाम्बी की बेटी के मामले पर जब हमने कौशाम्बी के एसपी से सवाल किया तो उन्होंने तस्वीरे देखने के बाद कुछ भी कहने से साफ़ मना कर दिया। जाँच की बात कह कर अपने दफ्तर से उठ कर चले गए।
News Bulletin: बेड़ियों में जकड़ी बेटी, बेरहम पिता की करतूत - पीलीभीत में शवों की दुर्गति

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Share it
Top