Home > योगी सरकार में लाचार सिपाही

योगी सरकार में लाचार सिपाही

 शिव कुमार मिश्र |  2017-11-28 07:18:20.0  |  कोशौम्बी

योगी सरकार में लाचार सिपाही

योगी सरकार में अपनी ड्यूटी करते हुए सड़क हादसे का शिकार उत्तर प्रदेश पुलिस का एक जवान आज इलाज के अभाव में अपने जिंदगी के आखरी दौर पर है । पीड़ित परिवार के पास जो कुछ भी जमा पूंजी थी...वो सब इलाज में खत्म हो गया। यहाँ तक कि परिवार वालो ने अपनी जमीन जायदाद और गहने तक बेंच डाला...फिर भी इलाज के अभाव में उत्तर प्रदेश पुलिस का एक जवान अपनी जिंदगी और मौत के बीच अंतिम जंग लड़ रहा है। ऐसे में पीड़ित परिवार पर अब सूबे के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मदद की गुहार लगाई है.

घर के बरामदे में चारपाई में मरणासन हालत में पड़ा यह सख्स उत्तर प्रदेश पुलिस का जवान लवकुश सोनकर है। जनता की हिफाजत और सुरक्षा की जंग लड़ने वाला लवकुश आज खुद ही अपनी ज़िंदगी और मौत के बीच जंग लड़ रहा है। कौशाम्बी के मोंगरी कड़ा गांव का रहने वाला लवकुश 2007 बैच का सिपाही है। तीन माह पहले लवकुश की पोस्टिंग लखनऊ में हुई थी। 6 अक्टूबर 2017 को ड्यूटी के दौरान लवकुश सड़क हादसे का शिकार हो गया। हादसे में लवकुश को गंभीर चोटें आई। घटना की जानकारी जब परिजनों को हुई तो मौके पर पहुंचे और घायल लवकुश को कानपुर के नॉर्थ स्टार हॉस्पिटल में भर्ती कराया।
कानपुर के नार्थ स्टार हॉस्पिटल में लवकुश का डेढ़ माह तक इलाज हुआ। सिपाही लवकुश के इलाज में करीब 20 लाख रुपये खर्च भी हो गया, फिर भी उसकी हालत में कोई सुधार नही आया। पीड़ित परिवार के पास जो कुछ भी जमा पूंजी थी वो सब इलाज में खर्ज हो गया। यहां तक कि परिवार वालो ने जमीन जायदाद और गहने तक बेंच डाला फिर भी सिपाही लवकुश की हालत जस का तस बनी रही। वहीं पुलिस विभाग द्वारा सिपाही के इलाज में अब तक हुए खर्ज की भरपाई भी नही किया। रुपये न होने के चलते घायल सिपाही लवकुश को हॉस्पिटल से डिस्चार्ज कर दिया गया।
नितिन अग्रहरी

Tags:    
Share it
Top