Top
Breaking News
Home > राज्य > उत्तर प्रदेश > लखनऊ > आधार कार्ड में गड़बड़ी के बहाने प्रदेश में 57 लाख किसानों को नहीं मिलेगा अब पैसा

आधार कार्ड में गड़बड़ी के बहाने प्रदेश में 57 लाख किसानों को नहीं मिलेगा अब पैसा

आखिर में किसान जाए तो जाये कहाँ इधर कुआं और उधर खाई है.

 Shiv Kumar Mishra |  30 Dec 2019 3:06 AM GMT  |  लखनऊ

आधार कार्ड में गड़बड़ी के बहाने प्रदेश में 57 लाख किसानों को नहीं मिलेगा अब पैसा

उत्तर प्रदेश में प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के तहत बड़ी संखया में आधार कार्ड में गडबडी पाए जाने पर एक बड़ा खुलासा हुआ है. जिसके मुताबिक अब प्रदेश के 58 लाख किसानों को यह पैसा मिलना मुश्किल हो जाएगा. इस खबर को सुनकर यूपी के पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने यूपी और केंद्र सरकार को आड़े हाथों लिया है.

अखिलेश यादव ने कहा है कि आधार कार्ड में गड़बड़ी के बहाने प्रदेश में 57 लाख किसानों को सरकार प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि से वचिंत करने का षड्यंत्र रच रही है. कहा जा रहा है कि जब तक आधार कार्ड में सुधार नहीं हो जाएगा तब तक ये पैसा नहीं मिलेगा. सवाल ये है कि अब तक जो पैसा मिला क्या वो कोई घोटाला था.

क्या है मामला

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के तहत बड़ी संख्या में आधार कार्ड में गड़बड़ी का खुलासा हुआ है. शासन की समीक्षा में सामने आया है कि सूबे के 57,90,664 किसानों के आधार कार्ड योजनांतर्गत गलत फीड हुए हैं.गौतमबुद्धनगर के लिए राहत वाली बात यह है कि आधार करेक्शन के मामले में जिला पूरे प्रदेश में दूसरे स्थान पर है. पहले नंबर पर गाजियाबाद और तीसरे पर हापुड़ है. प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के अंतर्गत प्रत्येक चार माह में 2000 रुपये (सालाना 6 हजार रुपये) किसानों को मिलते हैं. केंद्र सरकार ने योजना का लाभ लेने के लिए आवेदन करने की 30 नवंबर आखिरी तारीख तय की थी. योजना का लाभ लेने के लिए आधार कार्ड का पंजीकरण अनिवार्य किया गया है.

योजना के संबंध में पूरे प्रदेश में प्राप्त आवेदनों में 57 लाख से अधिक किसानों के आधार कार्ड में गड़बड़ी पाई गई है. इनमें करेक्शन का काम जिला स्तर पर चल रहा है. आधार कार्ड में गड़बड़ी वाले मामलों में करेक्शन होने तक किसानों को योजना का लाभ नहीं मिल पाएगा.

गौतमबुद्ध नगर में 9369 किसान रहेंगे वंचित

गौतमबुद्ध नगर भले ही आधार करेक्शन के मामले में सूबे में दूसरे स्थान पर है, लेकिन 9369 किसानों के आधार कार्ड में अब भी गड़बड़ी है. जिले के कुल 52 हजार किसानों का डाटा केंद्र सरकार को भेजा जा चुका है. वहीं नंबर एक पर आसीन गाजियाबाद के 8445 किसानों के आधार कार्ड में गड़बड़ी हैं. 14924 संख्या के साथ हापुड़ तीसरे स्थान पर है.

31437 के साथ लखनऊ पांचवें, 52756 के साथ मेरठ 21वें, 64893 के साथ कानपुर नगर 34वें स्थान पर है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में 66029 आधारकार्ड में गड़बड़ी सामने आई है. यह 37वें स्थान पर है. 55वें नंबर पर मौजूद बुलंदशहर में 97944 आधार कार्ड गलत फीड हुए हैं. 75वें स्थान पर मौजूद जौनपुर (1,98,736) की सबसे खराब स्थिति है.

वहीं कृषि उपनिदेशक एएन मिश्र ने इस मामले में कहा कि जिले के करीब 9369 किसानों के आधार कार्ड में गड़बड़ी मिली है. आधार करेक्शन के मामले में गौतमबुद्धनगर दूसरे स्थान पर है. जल्द ही सभी आधार कार्ड को दुरस्त करा दिया जाएगा.

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Next Story

नवीनतम

Share it