Top
Home > राज्य > उत्तर प्रदेश > लखनऊ > शिवपाल को मिला मुलायम का आशीर्वाद, सपा में मची भगदड़

शिवपाल को मिला मुलायम का आशीर्वाद, सपा में मची भगदड़

 Special Coverage News |  12 Oct 2018 9:10 AM GMT  |  लखनऊ

शिवपाल को मिला मुलायम का आशीर्वाद, सपा में मची भगदड़
x

लखनऊ: मुलायम सिंह यादव और उनकी सियासत को समझना कतई आसान नहीं है। शिवपाल और अखिलेश की अदावत जगजाहिर है और मुलायम कभी शिवपाल के पक्ष में खड़े नजर आते हैं तो कभी अखिलेश के। वो आखिर चाहते क्या हैं ये राजनीति के जानकारों की समझ से बाहर है।


सेक्युलर मोर्चा के कार्यक्रम में पूर्व रक्षा मंत्री मुलायम सिंह यादव भी पहुंचे। मुलायम सिंह ने कहा पूरे देश मे लोहिया का कार्यक्रम मनाया जा रहा है। लोहिया सादगी से रहते थे। लोहिया के पास दो जोड़ी कपडे थे। लोहिया ने कभी बड़ा बनने की कोशिश नही की। सेक्युलर मोर्चा बनने के बाद पहली बार मुलायम एक साथ मंच पर आये। सेक्युलर मोर्चा के संस्थापक शिवपाल यादव ने मुलायम सिंह का स्वागत किया। मुलायम के सामने ही बरेली के वरिष्ठ समाजवादी नेता और पूर्व सांसद वीरपाल सिंह यादव अपने सैकड़ों समर्थकों के साथ समाजवादी सेक्युलर मोर्चा में शामिल हुए। इस दौरान उन्होंने शिवपाल के सर पर हाथ रखकर आशीर्वाद भी दिया।




राम मनोहर लोहिया की पुण्यतिथि पर मुलायम आज अपने छोटे भाई शिवपाल सिंह यादव के साथ मौजूद रहे। लखनऊ के लोहिया ट्रस्ट में हुए इस कार्यक्रम में मुलायम ने कहा कि अन्याय कहीं भी हो, चाहे परिवार में हो, गाँव में हो, या कहीं और, उसका विरोध करो।




इसी के बाद से एक बार फिर कयासों का सिलसिला चालू हो गया है कि आखिर मुलायम किसके साथ हैं? शिवपाल सिंह के साथ या फिर अखिलेश यादव के साथ. दरअसल अब अखिलेश यादव समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष हैं और शिवपाल सिंह यादव समाजवादी सेक्युलर मोर्चे के संस्थापक। दोनों ही लोग मुलायम सिंह यादव को अपने साथ बताते हैं। मुलायम ने कभी किसी मंच पर नहीं कहा कि वो किसके साथ हैं।


इस दौरान पार्टी के बड़े नेता और मुलायम के करीबी बीरपाल सिंह यादव ने सपा की साईकिल छोड़कर मोर्चा का दामन थाम लिया। वीरपाल ने मुलायम के मौजूदगी में मोर्चा का दामन थामा।





Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर, Telegram पर फॉलो करे...
Next Story
Share it