Top
Home > राज्य > उत्तर प्रदेश > लखनऊ > भावुक होकर बाप की बात कहते कहते प्रियंका गाँधी बोलीं, अपने पिता के छलनी शरीर को 19 साल की उम्र में मैं घर लाई

भावुक होकर बाप की बात कहते कहते प्रियंका गाँधी बोलीं, 'अपने पिता के छलनी शरीर को 19 साल की उम्र में मैं घर लाई

कांग्रेस की देश बचाओ रैली में बोलीं प्रियंका, मोदी है तो नौकरियां छिनना, महंगाई बढ़ना मुमकिन है.

 Special Coverage News |  14 Dec 2019 8:36 AM GMT  |  दिल्ली

भावुक होकर बाप की बात कहते कहते प्रियंका गाँधी बोलीं, अपने पिता के छलनी शरीर को 19 साल की उम्र में मैं घर लाई
x

नई दिल्ली: कांग्रेस की देश बचाओ रैली में प्रियंका गांधी ने दिल्ली के रामलीला मैदान से यूपी की योगी सरकार पर तीखा हमला बोला। उन्नाव में रेप पीड़िता को जिंदा जलाए जाने का मामला उठाते हुए प्रियंका ने कहा कि इंसाफ की आस में अदालत जा रही बेटी को अपराधियों ने जला डाला। एक किलोमीटर तक वह भागी और अंत में गिर गई। उसके पिता अपने मुंह को छिपाकर रोने लगे तो यह देखकर मुझे अपने पिता की याद आई।

उन्होंने कहा, 'उस बेटी के पिता को रोता देखकर मुझे अपनी पिता की याद आ गई।' कांग्रेस की महासचिव ने कहा, 'अपने पिता के छलनी शरीर को 19 साल की उम्र में मैं घर लाई। मेरे पिता का खून इस धरती की मिट्टी में मिला हुआ है। उस किसान की बेटी का खून भी इस देश की मिट्टी को सींच रहा है। यहां जो अत्याचार हो रहा है, उसे रोकना हमारी जिम्मेदारी है।'

'बीजेपी है तो नौकरियां खत्म होना मुमकिन है'

बीजेपी के 'मोदी है तो मुमकिन है' के नारे पर तंज कसते हुए प्रियंका गांधी ने कहा, 'बीजेपी है तो 100 रुपये किलो की प्याज मुमकिन है। बीजेपी है तो 45 सालों में सबसे ज्यादा बेरोजगारी मुमकिन है। 4 करोड़ नौकरियां खत्म होना मुमकिन है। रेलवे और एयरपोर्ट की बिक्रियां मुमकिन है।'

'किसान की फसल और मजदूर का पसीना है देश'

प्रियंका ने कहा कि यह देश एक अनोखे स्वतंत्रता संग्राम से उभरा है। एक ऐसे आंदोलन से उभरा, जिसने अहिंसा और प्रेम के जरिए दुनिया के सबसे बड़े साम्राज्य को शिकस्त दी। एक दूसरे का हाथ थामने की चाहत है यह देश। एक नौजवान की आंखों में मजबूत भविष्य का सपना, किसान की फसल और फैक्ट्रियों में मजदूर का पसीना ही देश है।

चिदंबरम बोले, मंत्री ने क्यों नहीं कही अच्छे दिन की बात

उनसे पहले पी. चिदंबरम ने कहा कि देश की अर्थव्यवस्था गर्त में जा रही है। बीते 6 महीनों में मोदी सरकार ने इकॉनमी को बर्बाद करने का काम किया है। कल वित्त मंत्री ने कहा कि सब कुछ सही है और देश दुनिया में टॉप पर है, लेकिन एक ही बात उन्होंने नहीं कही कि अच्छे दिन आने वाले हैं।

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर, Telegram पर फॉलो करे...
Next Story
Share it