Top
Home > राज्य > उत्तर प्रदेश > लखनऊ > वाराणसी में दिनदहाड़े तहसील परिसर में प्रॉपर्टी डीलर को गोलियों से भूना, बुलेटप्रूफ फॉर्च्यूनर भी नहीं बचा पाई

वाराणसी में दिनदहाड़े तहसील परिसर में प्रॉपर्टी डीलर को गोलियों से भूना, बुलेटप्रूफ फॉर्च्यूनर भी नहीं बचा पाई

उसी समय पल्‍सर सवार 2 युवक तहसील में पहुंचे और नितेश पर ताबड़तोड़ गोलियां बरसाने लगे।

 Special Coverage News |  30 Sep 2019 1:29 PM GMT  |  लखनऊ

वाराणसी में दिनदहाड़े तहसील परिसर में प्रॉपर्टी डीलर को गोलियों से भूना, बुलेटप्रूफ फॉर्च्यूनर भी नहीं बचा पाई
x

उत्तर प्रदेश के बनारस जिले के तहसील परिसर में सोमवार (30 सितंबर ) को बाइक सवार बदमाशों ने एक प्रॉपर्टी डीलर को गोलियों से भून डाला। इससे मौके पर ही उसकी मौत हो गई। बताया जा रहा है कि प्रॉपर्टी डीलर बुलेटप्रूफ फॉर्च्यूनर से तहसील परिसर में आया था, लेकिन बदमाशों ने उसके गाड़ी से बाहर निकलने का इंतजार किया और उसके बाद ताबड़तोड़ गोलियां चलाईं। प्रॉपर्टी डीलर को 6 गोलियां लगीं। घटना की जानकारी मिलते ही तहसील परिसर में हड़कंप मच गया। इसके बाद पुलिस ने मौके पर पहुंचकर मामले की जांच शुरू कर दी। फिलहाल बदमाशों का कुछ पता नहीं लगा है।

किसी प्रॉपर्टी के सिलसिले में तहसील पहुंचा था:

पुलिस के मुताबिक, प्रॉपर्टी डीलर नितेश उर्फ बबलू सिंह (32) सोमवार सुबह शिवपुर थाना क्षेत्र के अंतर्गत सदर तहसील गया था। बताया जा रहा है कि बबलू किसी जमीन के सिलसिले में वहां गया था। उस वक्त तहसील में अधिवक्‍ताओं और वादकारियों की आवाजाही शुरू हुई थी। उसी समय पल्‍सर सवार 2 युवक तहसील में पहुंचे और नितेश पर ताबड़तोड़ गोलियां बरसाने लगे।

नहीं बचा पाई बुलेटप्रूफ फॉर्च्यूनर:

पुलिस के मुताबिक, बदमाशों ने एसडीएम सदर कार्यालय के सामने से नितेश का पीछा किया। इसका पता लगने पर वह अपनी गाड़ी की तरफ भागा और अंदर घुसने की कोशिश करने लगा। हालांकि, फॉर्च्यूनर के गेट पर ही बदमाशों ने उसे गोलियों से भून दिया। लोगों का कहना है कि नितेश की गाड़ी बुलेटप्रूफ थी। अगर वह कार में घुस जाता तो उसकी जान बच सकती थी।

मामले की जानकारी मिलते ही आईजी रेंज विजय सिंह मीणा, कमिश्नर दीपक अग्रवाल व एसएसपी आनंद कुलकर्णी घटनास्थल पर पहुंच गए। एसएसपी ने बताया कि मृतक प्रॉपर्टी का काम करता था। वह तहसील में किसी मुकदमे की पैरवी में आया था। पिछले गेट पर उसकी गाड़ी खड़ी थी, जहां उसकी हत्या कर दी गई। इस घटना के संबंध में परिजनों से भी पूछताछ की जा रही है। मृतक पर कई आपराधिक केस दर्ज थे। पुलिस हत्यारों की तलाश में जुट गई है। आसपास के सीसीटीवी कैमरे खंगाले जा रहे हैं।

झुन्ना पंडित पर हत्या कराने का शक:

सूत्रों के मुताबिक, इनामी बदमाश झुन्‍ना पंडित ने अपराध जगत में वापसी के बाद से प्रॉपर्टी डीलरों को निशाने पर ले रखा है। पुलिस के मुताबिक, आशापुर, कैंट, चोलापुर आदि क्षेत्रों में उसने कई प्रॉपर्टी डीलरों से रंगदारी वसूली है। जमीन की लंबी खरीद-फरोख्‍त पर उसकी निगाह रहती है।नितेश भी प्रॉपर्टी डीलर था। इसके चलते घटना में झुन्‍ना का हाथ होने से इनकार नहीं किया जा सकता।

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर, Telegram पर फॉलो करे...
Next Story
Share it