Top
Home > राज्य > उत्तर प्रदेश > लखनऊ > यूपी STF ने करोड़ों रूपये के हेरफेर करने वाले नीलेश मिश्रा को किया गिरफ्तार

यूपी STF ने करोड़ों रूपये के हेरफेर करने वाले नीलेश मिश्रा को किया गिरफ्तार

 Special Coverage News |  19 Oct 2019 9:47 AM GMT  |  लखनऊ

यूपी STF ने करोड़ों रूपये के हेरफेर करने वाले नीलेश मिश्रा को किया गिरफ्तार
x

आकाशीय बिजली को अष्टधातु पर गिराकर न्यूक्लियर पावर में परिवर्तित करने का दावा कर हजारों करोड़ मे बेचने का झांसा देकर सेना के रिटायर्ड जवान से 52 लाख रूपये की ठगी करने वाले मास्टरमाइण्ड को एसटीएफ ने जनपद लखनऊ से गिरफ्तार। एसटीएफ उत्तर प्रदेश को आकाशीय बिजली को अष्टधातु पर गिराकर न्यूक्लियर पावर मे परिवर्तित करने का दावा कर हजारों करोड़ मे बेचने का झांसा देकर सेना के रिटायर्ड जवान से 52 लाख रूपये की ठगी करने वाले मास्टरमाइण्ड को जनपद लखनऊ से गिरफ्तार करने मंे उल्लेखनीय सफलता प्राप्त हुई।


गिरफ्तारी का स्थान व समयः- हयात होटल विभूतीखण्ड गोमतीनगर के समीप रात्रि 02:15 बजे। राजेन्द्र सिंह नागरकोटी, निवासी फ्लैट न0 803 ब्लाक पी शारदा अपार्टमेंट गोमतीनगर विस्तार सेक्टर 4 गोमती नगर लखनऊ द्वारा दिनांक 19/05/2019 में थाना विभूतिखण्ड जनपद लखनऊ मे मु0अ0स0 318/2019 धारा 419/420 भा0द0वि0 पंजीकृत कराय गया था। निलेश कुमार मिश्र डायरेक्टर VINTAGE ANTIIQUE METALSअशोक कुमार श्रीवास्तव व दिनेश कुमार पाण्डेय आदि द्वारा बताया गया कि हमारी कम्पनी का हेड आफिस रूस मे है, हम लोग अपनी कम्पनी के साईनटिस्ट व मैटिरियोलाजिस्ट है। आकाशीय बिजली को अष्टधातु पर गिराकर न्यूक्लियर पावर मे परिवर्तित कराकर R POWER को इंटरनेशनल मार्केट मे हजारों करोड़ मे बेचते है, जिसमें आपको कुछ लाख रूपये खर्च करने होंगे और आप को हजारों करोड रूपये मिल जायेगें आदि तरह से प्रलोभन देकर उपरोक्त लोगों द्वारा 52 लाख रूपये की ठगी कर ली गयी।

उपरोक्त के परिप्रेक्ष्य में एसएसपी राजीव नारायण मिश्र द्वारा निर्देश दिये गये। जिसके अनुपालन में एएसपी विशाल विक्रम सिंह के पर्यवेक्षण में मुख्यालय स्थित साइबर क्राइम टीम द्वारा अभिसूचना संकलन की कार्यवाही प्रारम्भ की गयी।

अभिसूचना संकलन के दौरान ज्ञात हुआ कि निलेश कुमार मिश्रा उपरोक्त किसी से ठगी करने के इरादे से लखनऊ आया हुआ है, जिसे शनिवार को साइबर टीम द्वारा विभूतिखण्ड गोमती नगर जनपद लखनऊ से रात्रि समय करीब 2:15 बजे गिरफ्तार किया गया जिससे उपरोक्त बरामदगी हुई।

उपरोक्त प्रकरण के सम्बन्ध मे पूछताछ पर निलेश मिश्र ने बताया कि उसने 1999 से 2001 के बीच बाबू बनारसीदास इस्टीट्यूट आफ इंजीनियरिंग एवं रिसर्च सेन्टर जहांगीराबाद बुलन्दशहर से B.Tech किया फिर 2007 से 2009 तक दिल्ली मैट्रो मे इलेक्ट्रीशियन के पद पर कार्य किया उसके बाद वर्ष 2013 मे मैने एक VINTAGE ANTIIQUE METALS नाम की एक कम्पनी बनायी। इस कम्पनी की आड़ मे हमारे गैंग के सदस्यों द्वारा लोगो से आकाशीय बिजली को अष्टधातु पर गिराकर न्यूक्लियर पावर मे परिवर्तित कर 80 हजार करोड प्रति इंच की दर पर इंटरनेशनल मार्केट मे बेचने का झांसा व प्रलोभन देकर विभिन्न राज्यों मे लगभग 5 करोड़ की ठगी की जा चुकी है। वर्ष 2018 में थाना द्वारिका नई दिल्ली पर इसी सम्बन्ध में एक और धोखाधडी हेतु मु0अ0सं0 00015/2018 में पूर्व में भी जेल जा चुका हूॅ।

गिरफ्तार अभियुक्त को केस दर्ज कर थाना विभूतिखण्ड जनपद लखनऊ में दाखिल कर अग्रिम विधिक कार्यवाही थाना विभूतिखण्ड जनपद लखनऊ पुलिस द्वारा की जा रही है एवं शेष अभियुक्तों की गिरफ्तारी हेतु प्रयास किया जा रहा है।

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर, Telegram पर फॉलो करे...
Next Story
Share it