Top
Home > राज्य > उत्तर प्रदेश > मुज्जफरनगर > अजीत सिंह के नल ने संजीव बालियान के कमल को खूब पानी पिलाया!

अजीत सिंह के नल ने संजीव बालियान के कमल को खूब पानी पिलाया!

इन क्षेत्रों में महागठबंधन की लहर चली और मुस्लिम मतदाताओं का रालोद प्रत्याशी चौधरी अजित सिंह के समर्थन में धु्रवीकरण नजर आया, जबकि अन्य क्षेत्रों में शहर से लेकर देहात तक नल और कमल के बीच कांटे का मुकाबला बना हुआ दिखायी दिया।

 Special Coverage News |  11 April 2019 4:34 PM GMT  |  मुजफ्फरनगर

अजीत सिंह के नल ने संजीव बालियान के कमल को खूब पानी पिलाया!
x

मुजफ्फरनगर। संसदीय चुनाव में मुजफ्फरनगर में मतदान के प्रति भारी जोश दिखाई दिया। बूथों पर सवेरे सात बजे से पहले ही मतदाताओं को कतारब( देखा गया। हालांकि शहरी क्षेत्र का मतदाता वोट देने के लिए कुछ देर से निकला। दोपहर को गरर्मी के कारण मतदान की रफ्तार कुछ कम होती नजर आयी। मतदान के दौरान मुस्लिम इलाकों में भी भारी उत्साह दिखाई दिया। इन क्षेत्रों में महागठबंधन की लहर चली और मुस्लिम मतदाताओं का रालोद प्रत्याशी चौधरी अजित सिंह के समर्थन में धु्रवीकरण नजर आया, जबकि अन्य क्षेत्रों में शहर से लेकर देहात तक नल और कमल के बीच कांटे का मुकाबला बना हुआ दिखायी दिया।


मुस्लिम इलाकों में भरपूर चले नल ने अन्य क्षेत्रों में भी अपनी दमदार उपस्थित दर्ज कराकर भाजपा के कमल को कड़ी चुनौती देने में कोई भी कोर कसर बाकी नहीं छोड़ी गयी। 'जाटलैंड' में चुनाव कैसा है, इसी को लेकर लोग चर्चा करते हुए देखे गये। बुढ़ाना से सूजड़ू तक फर्जी मतदान की सूचनाओं ने अफसरों को दौडाया। मतदान शुरू होने के साथ ही ईवीएम और वीवीपैट ने दम तोड़ना शुरू किया तो प्रशासन का भी सिरदर्द बढ़ गया। दो दर्जन से ज्यादा ईवीएम खराब हुई, इसके लिए काफी समय तक मतदान प्रभावित हुआ।


'मुजफ्फरनगर जनपद में छह विधानसभा सीटों के लिए प्रातः सात बजे मतदान प्रारम्भ हुआ। मतदान शुरू होने से पहले ही जिले में ईवीएम की खराबी प्रशासन के लिए चुनौती बनकर सामने आयी। सूत्रों के अनुसार दोपहर 11 बजे तक जनपद में 23 ईवीएम और 22 वीवीपैट को खराबी के कारण बदला जा चुका था। इसके साथ ही कुछ स्थानों पर दर्जनों बैलेट यूनिट भी खराब होने के कारण बदले गये। वहीं सवेरे से ही मतदान के प्रति मतदाताओं में जोश दिखायी दिया। मुजफ्फरनगर सीट पर नल और कमल के बीच ही मुख्य मुकाबला था। यहां पर दस प्रत्याशी चुनाव मैदान में है। महागठबंधन से रालोद मुखिया चै. अजित सिंह और भाजपा प्रत्याशी सांसद डा. संजीव बालियान में कांटे का मुकाबला हुआ। मुस्लिम इलाकों में महागठबंधन की लहर दिखाई दी। मुस्लिम बाहुलय क्षेत्रों में मतदाताओं की लंबी कतार थी। वहां पर चौधरी अजित सिंह के नाम पर पूरी तरह से ध्रुवीकरण था।


इसका कारण भी था कि भाजपा प्रत्याशी के सामने मुस्लिम वोटरों को कोई अन्य विकल्प नहीं मिला। कांग्रेस की ओर से इस सीट पर अपना प्रत्याशी नहीं उतारे जाने के कारण यहां पर चै. अजित सिंह और डा. संजीव बालियान के बीच ही सीधी टक्कर रही। भाजपा नेताओं की ओर से मुस्लिम इलाकों से इस बार ज्यादा वोट मिलने की उम्मीद जतायी गयी है। वहीं गांधी कालौनी, नई मण्डी, जनकपुरी, रामपुरी, कृष्णापुरी जैसे भाजपा के गढ़ माने जाने वाले क्षेत्रों में सवर्ण और अन्य पिछड़ा वर्ग के मतदाताओं की पहली पसन्द भाजपा ही रही, लेकिन यहां पर रालोद प्रत्याशी चै. अजित सिंह ने करीब करीब सभी बूथों पर अपनी भी दमदार उपस्थिति दर्ज करायी। जाटलैंड माने वाले वाले बुढ़ाना और अन्य क्षेत्रों में रालोद प्रत्याशी के साथ ही भाजपा प्रत्याशी भी तेज भागदौड़ करते हुए दिखायी दिये।

मुजफ्फरनगर जनपद में मतदान की शुरूआत काफी अच्छी रही। सवेरे नौ बजे तक छह सीटों पर 11.09 प्रतिशत मतदान हो चुका था। इस दौरान बुढ़ाना विधानसभा में सर्वाधिक 16.75 प्रतिशत मतदाता अपने वोट डाल चुके थे। जबकि चरथावल में 10.71, मुजफ्फरनगर में 8.13, पुरकाजी विस में 9.87, खतौली में 10.96, मीरापुर में 13.43 प्रतिशत वोटरों ने मतदान किया। इसके बाद अगले दो घंटों में मतदान के प्रतिशत में और भी ज्यादा तेजी दिखाई दी। 11 बजे जिला निर्वाचन अधिकारी द्वारा जारी किये गये आंकडों के अनुसार 27.02 प्रतिशत वोटिंग हुई। इसमें मीरापुर आगे रहा। यहां पर 30.07 प्रतिशत मतदाताओं ने वोट डाले। बुढाना में 28.21, चरथावल में 26.03, मुजफ्फरनगर में 28.96, पुरकाजी में 27.07 और खतौली में 29.23 फीसदी वोट पड़े। एक बजे तक जनपद में मतदान का प्रतिशत 36.98 पर पहुंच गया था। इस अवधि तक मतदान में खतौली विधानसभा सबसे ऊपर बनी थी। यहां पर 40.02 फीसदी मतदाता वोट डाल चुके थे। जबकि बुढ़ाना में 33.98, चरथावल में 35.97, मुजफ्फरनगर में 35.14, पुरकाजी में 38.50 और मीरापुर में 39.14 प्रतिशत मतदान हो चुका था।

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Next Story
Share it