Top
Begin typing your search...

मातृ दिवस पर कॉन्स्टेबल कामिनी बनी अनूठी मिसाल

मातृ दिवस पर कॉन्स्टेबल कामिनी बनी अनूठी मिसाल
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

धीरेन्द्र अवाना

नोएडा। मां एक ऐसा शब्द जिसका सुनकर कानों में मिठास महसूस होती है और अचानक ही प्रेम की अनुभूति होने लगती है।ये एक ऐसा सबसे प्यारा रिश्ता है जो दुनिया के हर बच्चे को लुभाता है।इसी रिश्ते को सम्मानित करने के लिए मई माह के दूसरे रविवार को मातृ दिवस मनाया जाता है।


मातृ दिवस यानि की मदर डे इस दिन को सभी लोगो के जीवन में बहुत महत्व होता है सभी लोग अपनी माँ को खुश करने के लिए तरह तरह जतन करते दिखायी देते है।आज हम आपको एक ऐसी ही प्रेम,त्याग और अपने काम के प्रति जिम्मेदार रहने वाली मां के बारे में बताते है। उस मां का नाम है कामिनी।


कामिनी ग्रेटर नोएडा के ईकोटेक-1 थाने में कॉन्स्टेबल पद पर तैनात है। वर्दी और मां के फर्ज को साथ-साथ निभाकर कामिनी ने दूसरी औरतों के लिए एक मिसाल पैश की है।मातृ दिवस के मौके पर कामिनी अपने जुड़वा बच्चों को गोद में लेकर ड्यूटी करने पहुंची। थाने में दोनों बच्चों को कंप्यूटर टेबल पर लिटा कर काम करता देख थाना प्रभारी ने उसके जज्बे को सलाम कर उसके फोटो खींच लिया। बात अधिकारियों तक पहुंची तो उन्होनें कामिनी के फर्ज की तारीफ करते हुये अपने ट्वीटर पर फोटो शेयर कर लिखा है कि महिला कामिनी वर्दी की जिम्मेदारी संग जुड़वा बच्चों का भी फर्ज निभा रही हैं।

आपको बता द कि सोशल मीडिया पर इसकी जमकर इसकी तारीफ हो रही है। ईकोटेक-1 थाने के एसएचओ मुकेश कुमार ने बताया कि कामिनी जुड़वा बच्चों की मां हैं और वह मेटरनिटी लीव पर चली रही थी। रविवार को उन्हें ड्यूटी जॉइन करनी थी। वह दोनों बच्चों को साथ लेकर ड्यूटी पर पहुंच कर उसने काम किया। कामिनी का कहना है कि मां की फर्ज के साथ-साथ ड्यूटी की जिम्मेदारी भी निभानी है। दोनों फर्ज बेहद जरूरी हैं।

Special Coverage News
Next Story
Share it