Home > राज्य > उत्तर प्रदेश > नोएडा > नोएडा पुलिस का सराहनीय कार्य,भीषण टक्कर में घायल चालक की पुलिस ने बचाई जान

नोएडा पुलिस का सराहनीय कार्य,भीषण टक्कर में घायल चालक की पुलिस ने बचाई जान

 Special Coverage News |  20 Oct 2019 12:36 PM GMT  |  नोएडा

नोएडा पुलिस का सराहनीय कार्य,भीषण टक्कर में घायल चालक की पुलिस ने बचाई जान

धीरेन्द्र अवाना

नोएडा। नोएडा का मिनी कनाट पैलैस कहे जाने वाले सेक्टर-18 में देर रात डीएलएफ मॉल के ठीक सामने अचानक एक मिन्नी ट्रक के टकराने से हुए भीषण हादसे से आस पास के क्षेत्र में अफरा तफरी मच गई।इस हादसे में बुरी तरह क्षतिग्रस्त मिन्नी ट्रक के स्टेरिंग में फंसे चालक को थाना-20 पुलिस ने अपनी सूझबूझ से बचाया।वैसे तो पुलिस पर कामचोरी व तरह तरह के आरोप लोग लगाते रहते है।लेकिन ऐसे लोगों को कभी पुलिस द्वारा अच्छे कार्यों पर सराहना करते नही देखा गया। ऐसे लोगों को 24 घंटे और सातों दिन ड्युटी करने वाले पुलिसकर्मीयों भी नही दिखते।अनियमित दिनचर्या और लगातार ड्यूटी करने के बाबजूद भी इनको खरी खोटी सुननी पड़ती है।

बात करे गौतमबुद्ध नगर जिले की तो यहा पुलिस के कई सराहनीय कार्य देखने को मिलते है।पुलिस द्वारा कभी किसी के मोबाईल, बैग,लैपटॉप जाता है तो कभी गुम या बिछड़े हुये बच्चों को उनके परिवार से मिलाया जाता है।इसी क्रम में नोएडा के थाना-20 के थानाध्यक्ष राजबीर सिंह के नेतृव्य में थाना पुलिस ने देर रात सैक्टर-18 में ट्रक व मिन्नी ट्रक में भीषण टक्कर के दौरान मिन्नी ट्रक में फसें घायल चालक को बाहर निकाल कर समय से अस्पताल पहुचाकर उसकी जान बचायी।पूरा मामला कुछ इस प्रकार है कि शनिवार देर रात नोएडा के सैक्टर-18 में तेज रफ्तार से जा रहे ट्रक UP16CT9515 ने DLF के गेट नंबर आठ के सामने अचानक ब्रेक लगा दी जिसकी वजह से पीछे आ रहा मिन्नी ट्रक HR47D2780 की उससे भीषण टक्कर हो गयी।

टक्कर में गाड़ी चालक लेखपाल निवासी एटा स्टेरिंग में फंस कर गंभीर रुप से घायल हो गया। सूचना मिलते ही थाना-20 के थानाध्यक्ष राजबीर सिंह ने अपनी पुलिस टीम चौकी इंचार्ज सैक्टर- 18 और अट्टा चौकी इंचार्ज को साथ लेकर खुद आगे वाले ट्रक को वहाँ मौजूद लोगों के सहयोग से धक्का देकर हटवाया और फिर मिन्नी ट्रक में फसें घायल चालक निकाल कर अपनी गाड़ी से जिला अस्पताल निठारी भेजा गया।जहा चालक का इलाज चल रहा है।सूत्रों का कहना है कि मिन्नी ट्रक में फंसा ड्राइवर अगर थोड़ी देर से अस्पताल पहुचता तो उसकी जान भी जा सकती थी।

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Next Story
Share it
Top