Top
Home > राज्य > उत्तर प्रदेश > नोएडा > नोएडा: प्याज की कालाबाजारी करने वालों पर प्रशासन सख्त सख्त, सिटी मजिस्ट्रेट ने मारा छापा

नोएडा: प्याज की कालाबाजारी करने वालों पर प्रशासन सख्त सख्त, सिटी मजिस्ट्रेट ने मारा छापा

 Special Coverage News |  3 Oct 2019 12:28 PM GMT  |  नोएडा

नोएडा: प्याज की कालाबाजारी करने वालों पर प्रशासन सख्त सख्त, सिटी मजिस्ट्रेट ने मारा छापा
x

धीरेन्द्र अवाना

नोएडा। जिलाधिकारी बी एन सिंह के निर्देश पर प्याज की कालाबाजारी और निर्धारित से अधिक दाम वसूलने वाले लोगों के खिलाफ सिटी मजिस्ट्रेट के नेतृव्य में छापा मार कर कारवाई की।इसी क्रम में मंगलवार को अधिक दाम पर प्याज बेच रहे तीन दुकानदारों को गिरफ्तार करके उनके ऊपर भारी जुर्माना लगाकर छोड़ा दिया।मजिस्ट्रेट ने सभी को आदेश दिया है कि सभी दुकानदारों अपनी दुकान पर प्याज के थोक रेट लिखे।

आपको बता दे कि जिले में फिलहाल छह केंद्रों पर थोक रेट में प्याज बेची जा रही है।आने वाले दिनों में उम्मीद है कि प्याज बिक्री केंद्र की संख्या बढ़ सकती है।जिलाधिकारी के निर्देश पर मंगलवार को सेक्टर-19 स्थित कार्यालय में सिटी मजिस्ट्रेट शैलेंद्र कुमार मिश्र के नेतृत्व में एक बैठक हुई।इसमें थोक रेट से अधिक दाम पर प्याज बेचने वालों के खिलाफ कार्रवाई का फैसला लिया गया।सिटी मजिस्ट्रेट के नेतृत्व में टीम बनाई गई, जिसमें जिला पूर्ति अधिकारी आरएन यादव, कृषि उत्पादन मंडी समिति सचिव संतोष कुमार यादव और डीएफएमओ जूही मिश्रा के साथ पुलिस को भी शामिल किया गया।टीम ने सबसे पहले हरौला सेक्टर-5 में छापेमारी की।

यहां तीन दुकानदार अतुल गुप्ता, गौरव कुमार और कालू सिंह को 50 से 60 रुपये प्रति किलोग्राम की दर से प्याज बेचते पाया गया। तीनों को मौके से गिरफ्तार कर लिया गया और उन पर 86, 500 रुपये का अर्थदंड लगाया गया। तीनों के अर्थदंड जमा कराने पर उन्हें छोड़ दिया गया।सिटी मजिस्ट्रेट ने बताया कि दुकानदार मंडी के थोक रेट से पांच फीसदी अधिक दाम पर ही प्याज बेच सकते हैं ।मंगलवार को सामान्य प्याज 30 रुपये और अच्छी क्वालिटी की प्याज 38 रुपये प्रति किलोग्राम बिकवाई गई है।

जिलाधिकारी बीएन सिंह गौतमबुद्धनगर ने बताया कि जिले में छह केंद्र खोले गए हैं, जहां से लोक थोक रेट पर प्याज खरीद सकते हैं। जल्द ऐसे केंद्रों की संख्या बढ़ाई जाएगी। प्याज की कालाबाजारी करने वालों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी।

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर, Telegram पर फॉलो करे...
Next Story
Share it