Top
Begin typing your search...

पुलिस की पूछताछ में नोएडा के अग्निशमन अधिकारी कुलदीप कुमार ने किए बड़े खुलासे

पुलिस की पूछताछ में नोएडा के अग्निशमन अधिकारी कुलदीप कुमार ने किए बड़े खुलासे
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

धीरेन्द्र अवाना

नोएडा। नोएडा में धोखाधड़ी करने के मामले में गिरफ्तार अग्निशमन अधिकारी(एफएसओ) और वेंडर अरविन्द गुप्ता से पूछताछ जारी है। पुलिस ने कुछ महत्वपूर्ण जानकारी मिलने का दावा किया है। रिश्वतखोरी के आरोप में रविवार की रात गिरफ्तार एफएसओ कुलदीप कुमार और फायर वेंडर अरविंद गुप्ता को सोमवार को मेरठ की भ्रष्टाचार निवारण अदालत में पेश किया गया। न्यायालय ने उन्हें 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया है।

एसएसपी वैभव कृष्ण ने मंगलवार को बताया कि मामले की जांच जारी है और कुछ महत्वपूर्ण जानकारियां मिली हैं। उन्होंने कहा कि जिन लोगों की भूमिका सामने आएगी, उन्हें बख्शा नहीं जाएगा। दमकल विभाग से विभिन्न बिल्डरों ने भवनों की एनओसी प्राप्त करने के लिए फर्जी दस्तावेज प्रस्तुत किए हैं। रिश्वत देकर एनओसी प्राप्त की हैं। यह मामला सामने आने, एफएसओ कुलदीप और वेंडर अरविंद की गिरफ्तारी के बाद थाना सेक्टर 20 में 13 अन्य वेंडरों के खिलाफ सात मुकदमे दर्ज किए गए हैं।

एसएसपी वैभव कृष्ण ने सोमवार को एफएसओ कुलदीप से थाना सेक्टर 20 में बंद कमरे में पूछताछ की। इसके बाद उन्होंने सेक्टर दो में फायर स्टेशन फेस-वन जाकर कई दमकल कर्मियों से अलग-अलग बात की। एसएसपी ने बताया कि दमकल विभाग में मुख्य अग्निशमन अधिकारी और उसके ऊपर के अधिकारी को ही एनओसी जारी करने का अधिकार है। ऐसे में लापरवाही किस स्तर पर हो रही थी, यह जांच के दायरे में है।

गौरतलब है कि जनपद में एफएसओ (फेज-वन) के पद पर तैनात कुलदीप कुमार तथा फायर वेंडर अरविंद गुप्ता के बीच रिश्वत का एक कथित ऑडियो सोशल मीडिया पर पिछले दिनों वायरल हुआ। जांच में ऑडियो के सही पाये जाने के बाद कुलदीप तथा अरविंद गुप्ता को हिरासत में लेकर पूछताछ की गई तो दोनों ने रिश्वत लेन-देन की बात स्वीकार की। दोनों के खिलाफ भ्रष्टाचार निरोधक अधिनियम सहित विभिन्न धाराओं में मुकदमा दर्ज कर उन्हें गिरफ्तार किया गया और मामले की जांच की जा रही है ।

Special Coverage News
Next Story
Share it