Top
Begin typing your search...

ट्रैफिक चैकिंग के दौरान इंजीनियर की मौत में नया मोड़ घटना नोएडा की नही गाजियाबाद की, एसएसपी नोएडा ने दी जानकारी

ट्रैफिक चैकिंग के दौरान इंजीनियर की मौत में नया मोड़ घटना नोएडा की नही गाजियाबाद की, एसएसपी नोएडा ने दी जानकारी
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

धीरेन्द्र अवाना

नोएडा। कल से सोशल मीड़िया में एक खबर वाईरल हो रही है कि नोएडा के सेक्टर- 62 अंडरपास के पास वाहन चेकिंग के दौरान पुलिसकर्मियों ने मां बाप के साथ जा रहे इंजीनियर की गाड़ी पर डंडा मारते हुए रोक लिया। आरोप है कि उनके रुकने पर पुलिसकर्मियों ने इंजीनियर और उनके परिवार के साथ अभद्रता शुरू कर दी।

इसी दौरान इंजीनियर को हार्ट अटैक आ गया।उनके जमीन पर गिरते ही ट्रैफिक पुलिसकर्मी मौके से भाग निकले।वहीं परिवार ने उन्हें अस्पताल पहुंचाया।जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।आपको बता दे कि पूरा मामला ये है कि नोएडा के सेक्टर-52 के शताब्दी विहार में रहने वाले मूलचंद शर्मा के 34 वर्षीय बेटे गौरव हरियाणा के गुरुग्राम की आईटी कंपनी में मार्केटिंग विभाग काम करते थे।रविवार को गौरव अपने माता-पिता के साथ कार से एनएच-24 से सेक्टर 62 की ओर आ रहे थे।

नोएडा की तरफ मुड़ते ही सीआईएसएफ कैंप के पास कुछ पुलिसकर्मी खड़े चैकिंग कर रहे थे ।पुलिसकर्मियों ने गौरव की गाड़ी को चैकिंग के लिए रूकवाया। गाड़ी के पूरे कागज ना दिखाने पर मौके पर मौजूद ट्रैफिक पुलिसकर्मीयों ने गाड़ी का चालान काटना चाहा जिसका विरोध गौरव के परिजनों ने किया। दिल की बिमारी से ग्रसित गौरव को अचानक दिल का दौरा पड़ गया और वो अचानक जमीन पर गिर गये।परिजनों ने उन्हें अस्पताल पहुंचाया।जहां डॉक्टरों ने गौरव को मृत घोषित कर दिया।

बता दे कुछ आसामाजिक तत्व नोएडा ट्रैफिक पुलिस की छवि को खराब करने का प्रयास कर रहे है। पहली बात ये है घटना गाजियाबाद के इंदिरापुरम थाने की है जिसे बेवजह नोएडा की घटना बताया जा रहा है। जिसका खंडन स्वंय एसएसपी वैभव कृष्ण ने किया है।

एसएसपी ने बताया कि पीड़ित दिल की बिमारी से ग्रसित था। घटना स्थल गाजियाबाद में आता है इस वजह से गाजियाबाद पुलिस को सूचित कर दिया है।

वही दूसरी ओर गाजियाबाद एसपी टैफिक श्याम नारायण सिंह ने बताया कि इस घटना का पता चलते ही सेक्टर 62 के आस-पास रविवार सुबह तैनात रहे ट्रैफिक पुलिसकर्मीयों से पूछताछ की है।वह खुद रविवार को तैनात पुलिसकर्मियों को उनके पिता के सामने खड़ा कर देंगे।अगर किसी पुलिसकर्मी की पहचान हुई तो कार्रवाई की जाएगी।

Special Coverage News
Next Story
Share it