Top
Home > राज्य > उत्तर प्रदेश > नोएडा > नोएडा पुलिस ने किया सराहनीय कार्य, दशहरा दहन में खोया मोबाईल लौटाया

नोएडा पुलिस ने किया सराहनीय कार्य, दशहरा दहन में खोया मोबाईल लौटाया

 Special Coverage News |  12 Dec 2019 1:38 PM GMT  |  नोएडा

नोएडा पुलिस ने किया सराहनीय कार्य, दशहरा दहन में खोया मोबाईल लौटाया
x

ग्रेटर नोएडा। पुलिस का नाम सुनते ही एक आम आदमी के मन में डर पैदा हो जाता है। आम तौर पर ऐसी धारणा है कि पुलिस वाले गरीब,मजलूमों व असहाय लोगो को प्रताड़ित करने में कोई कोर कसर नहीं छोड़ते है।यही वजह है की आज भी पुलिस का ख्याल आते ही बड़े बड़ो के पसीने छूट जाते है। लेकिन नोएडा पुलिस के जिस चहरे की झलक हम आप को दिखाने जा रहे है उससे आप के मन में जो भी धारणा है। वह पूरी तरह से बदल जाएगी और उनके अंदर के एक मानवीय चेहरे की झलक आपको दिखाई देगी।

पुलिस पर संवेदनहीन,कठोर निष्ठुर होने के आरोप लगते रहते हैं। लेकिन इन सबके बाबजूद महकमे में कुछ पुलिसकर्मी ऐसे भी है जो गरीबों मजलूमों की सहायता करने को हर पल तत्पर रहते हैं।ऐसा नजारा सिर्फ आपको गौतमबुद्ध के तेज तर्रार व कर्मठ एसएसपी के कुशल नेतृव्य में ही देखने को मिल सकता है।ऐसा ही एक मामला नोएडा के थाना-24 क्षेत्र का है यहा पुलिस का सराहनीय कार्य देखने को मिला जब थाना प्रभारी रामफल सिंह ने वादी दिवस पर दो व्यक्तियों के खुये हुये फोन को ढुढ़ कर उनको वापस कर दिया।

आपको बता दे कि दशहरा पर रावण दहन के दौरान दो व्यक्तियों राजीव रंजन पाठक निवासी सैक्टर-52 और गौरव पुत्र राजवीर निवासी गिझोड का फोन गुम हो गया था।जिसमें उनके काफी महत्वपूर्ण नम्बर, जरूरी कागजात आदि सेव थे। फोन खो जाने से दोनो व्यक्तियों को कई दिक्कतों का सामना करना पड़ा।लेकिन थाना प्रभारी रामफल सिंह ने सूझबूझ दिखाकर वादी दिवस के अवसर पर उनके गुमशुदा मोबाइल फोन को खोज कर उनके सुपुर्द किया। मोबाइल पाकर जो खुशी उन व्यक्तियों की कल्पना नही जाती।उन्होनें कहा कि यह हमारे साथ पहले बार हुआ है जब हमारी खोया हुआ सामान हमको वापस मिल रहा है।

हमें उम्मीद नही थी कि हमे मोबाइल मिल जायेगें लेकिन थाना प्रभारी रामफल के अथर प्रयासों से ही ये संभव हो पाया है।हम नोएडा पुलिस और यूपी पुलिस को धन्यवाद करते है जिनके पास ऐसे ईमानदार व अपने काम के प्रति वफादार पुलिस अधिकारी व पुलिसकर्मी है।आपको बता दे कि थाना प्रभारी रामफल सिंह इससे पहले जिले के विभिन्न थानों में स्थित कई चौकियों के इंचार्य रह चुके है जैसे थाना-49 की 44,51,बादलपुर थाना की बादलपुर चौकी के इंचार्य।वही ग्रेटर नोएडा के बीटा-2 थाना के इंचार्य,स्वाट टीम के इंचार्य और अब थाना-24 के इंचार्य।आपको ज्ञात होगा कि विभिन्न थानों में रह कर इन्होनें कई बड़े मामलों का खुलासा करके खूब वा-वाही लूटी है।

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर, Telegram पर फॉलो करे...
Next Story
Share it