Top
Home > राज्य > उत्तर प्रदेश > नोएडा > एसएसपी वैभव कृष्ण के कुशल नेत्रत्व में नोएडा पुलिस को मिली बड़ी सफलता, तीन दिन पहले हुयी लूट के तीन वाछिंत लुटरे गिरफ्तार

एसएसपी वैभव कृष्ण के कुशल नेत्रत्व में नोएडा पुलिस को मिली बड़ी सफलता, तीन दिन पहले हुयी लूट के तीन वाछिंत लुटरे गिरफ्तार

 Special Coverage News |  23 Sep 2019 5:27 PM GMT

एसएसपी वैभव कृष्ण के कुशल नेत्रत्व में नोएडा पुलिस को मिली बड़ी सफलता, तीन दिन पहले हुयी लूट के तीन वाछिंत लुटरे गिरफ्तार
x

धीरेन्द्र अवाना

नोएडा। गौतमबुद्ध नगर के तेज तर्रार, कर्मठ व लोकप्रिय एसएसपी वैभव कृष्ण ने अपराध व अपराधियों को जड़ से खत्म करने का जो प्रण लिया था।अब वो धीरे धीरे फलीभूत होता नजर आ रहा है।अपने कप्तान के आदेशों का पालन करते हुये एसपी सिटी के नेतृव्य में पुलिस निरंतर नई कामायाबी हासिल कर रही है। इसी क्रम में थाना-49 व स्टार-1 की टीम ने संयुक्त कारवाई करते हुये तीन दिन पहले हुयी लूट के वाछिंत लूटरों को नोएडा के सैक्टर-52 मैट्रों स्टेशन से गिरफ्तार किया।जिनके कब्जे से एक एप्पल का लैपटॉप,एक एमआई का मोबाइल,एक हार्ड डिस्क,एक हैड फोन,एक गाड़ी,पास बुक,चैक बुक,आधार कार्ड,पैन कार्ड,डेबिट कार्ड आदि सामान बरामद हुया।आपको बता दे कि 19/09/2019 को तीन शातिर लूटरों ने अनुज नाम के व्यक्ति को उन्हीं की कार में बंधक बना कर लूटपाट की।उसके बाद हथियार के बल पर अनुज को सेक्टर-72 से बंधक बनाकर करीब 4 घंटे तक घुमाया और एटीएम से रुपये निकालने का प्रयास किया।पैसे ना निकलने पर उसके साथ मारपीट भी की। गाड़ी को मेरठ की तरफ ले गये। यहा रोड पर स्थित एक पेट्रोल पंप पर कार बंद हो गई।

इस मौके का फायदा उठाकर अनुज बदमाशों के चंगुल से मुक्त होकर किसी तरह नोएडा आ गया।पीड़ित ने थाना सेक्टर-49 जाकर मामले की रिपोर्ट दर्ज करायी।पुलिस ने मुस्तेदी दिखाते हुये 24 घंटे के अंदर तीन लोगों को गिरफ्तार किया।आरोपियों की पहचान सुरज सिंह पुत्र परमाल सिंह,अमन बुड़ाकोटी पुत्र दीनदयाल,मनीष पुत्र गुलाब निवासी गांव सर्फाबाद सैक्टर-73 में रुप में हुयी है।अनुज एक मीडिया हाउस में प्रोड्यूसर हैं जबकि इसके पिता विश्वविद्यालय अनुदान आयोग में संयुक्त सचिव हैं।अनुज के पिता ने बताया कि 19 सितंबर की रात अनुज सेक्टर-76 निवासी अपने दोस्त के घर गए थे।वहां खाना खाकर रात करीब 12 बजे कार से घर के लिए निकले। करीब 12:30 बजे उन्होंने सेक्टर-72 में स्थित एक दुकान से कुछ सामान लेने के लिए कार खड़ी कर दी।कार का शीशा खुला होने के कारण पैदल

आए तीन बदमाशों ने हथियार के बल पर उन्हें बंधक बना लिया। एक बदमाश कार चलाने लगा, जबकि दो बदमाश पीछे वाली सीट बैठ गए और उन्हें अपने बीच में बैठा लिया।इस दौरान बदमाशों ने उनसे लैपटॉप,पर्स और मोबाइल छीन लिया।बदमाश अनुज को लेकर मेरठ रोड से गाजियाबाद की तरफ जाने लगे। गाजियाबाद में रात करीब 3.30 बजे मेरठ रोड पर स्थित एक एटीएम से रुपये निकालने का प्रयास किए। उस एटीएम में पैसे नहीं थे।एटीएम से पैसा नहीं निकलने पर बदमाशों ने अनुज के साथ मारपीट की।अनुज के पास पैसे ना होने के बाबजूद एक ऑटो बुक किया और वहां से सुबह करीब साढ़े छह बजे घर पहुंच कर परिजनों को अपनी आपबीती बताई।इसके बाद पेट्रोल पंप पर खड़ी कार को क्रेन की मदद से घर लाया गया।गाजियाबाद के एक पेट्रोलपंप पर पीड़ित युवक के क्रेडिट कार्ड से पेट्रोल का भुगतान करने पर पुलिस उन तक पहुंच सकी।पेट्रोलपंप के फुटेज देखने के बाद हुयी गिरफ्तारी।

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर, Telegram पर फॉलो करे...
Next Story
Share it