Top
Begin typing your search...

भ्रष्टाचार के खिलाफ नोएडा एसएसपी वैभव कृष्णा की बड़ी कार्यवाही, चौकी इंचार्ज, चार पुलिसकर्मी समेत 15 रिश्वत लेते रंगे हाथ किये गिरफ्तार

Noida SSP Vaibhav Krishna's big action against corruption

भ्रष्टाचार के खिलाफ नोएडा एसएसपी वैभव कृष्णा की बड़ी कार्यवाही, चौकी इंचार्ज, चार पुलिसकर्मी समेत 15 रिश्वत लेते रंगे हाथ किये गिरफ्तार
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

यूपी के नोएडा स्थित सेक्टर 44 के पुलिस के चौकी इंचार्ज और तीन सिपहियों समेत 15 लोगों को झूठे रेप केस में फंसाकर राहगीरों से पैसे लूटने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है. इनमें पीसीआर 44 पर तैनात सिपाही और दो महिलाएं शामिल हैं. आरोप है कि ये पुलिसकर्मी गैंग बनाकर महिलाओं के हनीट्रैप के सहारे राहगीरों से रिश्वत वसूलते थे. महिलाएं सड़क पर चलते कार सवार को अपना निशाना बनाती थी. लिफ्ट के बहाने कार मालिक पर रेप का आरोप लगाती थीं. इसके बाद केस रफा-दफा करने के लिए पीसीआर 44 पर तैनात सिपाहियों की मदद से ब्लैकमेलिंग होती थी. एसएसपी वैभव कृष्ण के निर्देश पर 15 लोगों की गिरफ्तारी की गई है.

ऐसे हुआ खुलासा

एसएसपी वैभव कृष्णा को किसी ने इसकी जानकारी दी. एसएसपी को जब इसकी शिकायत मिली तो उन्होंने बड़ी कार्रवाई करते हुए सेक्टर 44 की पुलिस चौकी पर तीन आरोपियों को 50 हजार रुपए रिश्वत लेते हुए पकड़ा. इसके बाद पूछताछ में इस पूरे गैंग पर पर्दाफाश हुआ. दरअसल, करीब 3-4 दिन पहले कुछ लोगों ने एसएसपी वैभव कृष्णा को सूचना दी थी कि सेक्टर 39 थाने के अंतर्गत सेक्टर 44 की पुलिस चौकी के बाहर एक ऐसा गैंग है जो लोगों पर झूठा रेप केस लगाकर पैसों की वसूली करता है. आरोप के अनुसार, एक लड़की सेक्टर 44 पुलिस चौकी से जा रहे किसी व्यक्ति की कार को रुकवाकर उसकी कार मे बैठकर थोड़ी दूर चलकर ऐसी जगह उतरती थी, जहां सेक्टर 44 पुलिस चौकी की पीसीआर खड़ी होती है. जबकि कार से उतरने के बाद वो लड़की पीसीआर पर तैनात पुलिसकर्मियों से शिकायत करती थी कि उसके साथ रेप हुआ है.





इस सूचना पर पीसीआर पर तैनात पुलिसकर्मी उक्त लड़की और तथाकथित अभियुक्तों को चौकी लेकर आते थे,जहां पर लड़की पक्ष की तरफ से भी कुछ व्यक्ति आते थे. इसके बाद ब्लैकमेल का खेल शुरू होता था और केस रफा-दफा करने के नाम पर लोगों से रिश्वत ली जाती थी. इस मामले में चौकी इंचार्ज सेक्टर 44 सुनील शर्मा, तीन आरक्षी- मनोज, अजयवीर, देवेंद्र, पीसीआर 50 के तीन प्राइवेट ड्राइवर और 2 महिलाओं को मिलाकर कुल 15 लोगों को गिरफ्तार किया है.

गिरफ्तार अभियुक्तों का विवरण -

1. उ0नि0 सुनील शर्मा पुत्र महावीर शर्मा नि0 नगला जयसिंह थाना सुरीर जिला मथुरा हाल तैनाती

थाना सेक्टर 39 नोएडा।

2. का0 2099 मनोज कुमार पुत्र सत्वीर सिह नि0 ग्राम गाॅधी थाना बागपत जिला बागपत हाल

तैनाती थाना सैक्टर 39 नोएडा।

3. का0 114 अजयवीर सिंह पुत्र सतेन्द्र सिंह नि0 119 वसुन्धरा कालोनी के0 ब्लाक शास्त्री नगर

थाना मेडीकल मेरठ हाल तैनाती थाना सेक्टर 39 नोएडा।

4. का0 14 देवेन्द्र कुमार पुत्र श्री भोले सिंह नि0 ग्राम उधमपुर थाना सैफई जिला इटावा हाल

तैनाती थाना सेक्टर 39 नोएडा।

5. पीसीआर ड्राईवर विपिन सिंह पुत्र नरेन्द्र सिंह नि0 सेक्टर 66 मामूरा थाना फेस 3 नोएडा मूल

पता जगतपुर जिला मैनपुरी।

6. पीसीआर ड्राईवर दुर्वेश कुमार पुत्र टीकाराम नि0 सैक्टर 89 नया गांव थाना फेस 2 नोएडा मूल

पता ग्राम रसूलपुर थाना छिबरामउ जिला कन्नौज।

7. पीसीआर ड्राईवर राजेश पुत्र धर्मपाल सिंह नि0 सैन्थ गढी चैखण्डी एफएनजी बिहार थाना फेस

3 नोएडा मूल पता दुधईया थाना गिन्नौर जिला सम्भल ।

8. अनूप पुत्र नारायण नि0 इ/225 न्यू अशोक नगर दिल्ली मूल पता मौहम्मदाबाद थाना अछलादा

जिला औरेया।

9. सलीम खान पुत्र इकबाल नि0 विरेन्द्र का मकान ग्राम हरौला सेक्टर 5 नोएडा मूल पता ग्राम

बैरमनगर थाना शेरगढ जिला बरेली।

10.सतीश उर्फ अंकित पुत्र देवीचरन नि0 म0न0 31 सैक्टर 23ए थाना मुझेशर जिला फरीदाबाद

हरियाणा।

11. हरिओम शर्मा पुत्र लाजपत शर्मा नि0 ग्राम पेलक थाना चाॅदहट जिला पलवल हरियाणा।

12. सुरेश कुमार पुत्र केलसर सिंह नि0 म0न0 ए 480 ग्राम जैतपुर बदरपुर थाना जैतपुर दिल्ली।

13. देशराज पुत्र जगदीश नि0 55 मीठापुर बदरपुर थाना जैतपुर दिल्ली।

14 विनीता पत्नी सतीश उर्फ अंकित नि0 म0न0 31 सैक्टर 23 ए थाना मुझेशर जिला फरीदाबाद

हरियाणा।

15. पूजा पुत्री मोहर सिंह नि0 अमित का मकान जवाहर कालोनी थाना शारंग जिला फरीदाबाद

हरियाणा।

4.बरामदगी -

Special Coverage News
Next Story
Share it