Top
Home > राज्य > उत्तर प्रदेश > नोएडा > पुलिस ने बीस दिन में हत्या की साजिश रचने वाले आरोपियों को पकड़ा

पुलिस ने बीस दिन में हत्या की साजिश रचने वाले आरोपियों को पकड़ा

 Special Coverage News |  13 Aug 2019 5:07 AM GMT  |  नोएडा

पुलिस ने बीस दिन में हत्या की साजिश रचने वाले आरोपियों को पकड़ा
x

धीरेन्द अवाना

नोएडा। कुछ दिन पूर्व सूरजपुर कोतवाली क्षेत्र में स्थित ओसिस बिल्डर की साइट पर प्रबंधक पर ताबड़तोड़ गोलियां चलाकर मारने का प्रयास किया था। लेकिन उपचार के दौरान प्रबंधक को बचा लिया गया। पुलिस ने मात्र 20 दिन में घटना का पर्दाफाश करते हुये तीन आरोपियों को गिरफ्तार करके एक बड़ी कामायाबी हासिल की है। प्रबंधक को अपनी पत्नी को मोटी कहकर पुकारना पड़ा भारी।

प्रबंधक राजीव वर्मा की पत्नी ने पति की हत्या के लिए एक लाख बीस हजार की सुपारी अपने जिम ट्रेनर प्रेमी को दी थी। आपकाे बता दे कि दिल्ली के बुराड़ी के रहने वाले प्रबंधक राजीव वर्मा का आरोपित महिला से 16 साल पहले प्रेम विवाह हुआ था। दोनों का पंद्रह साल का एक बेटा भी है। राजीव वर्मा अपने पत्नी को मोटी कर हीन भावना से देखता था जो उसकी पत्नी को बिल्कुल भी अच्छा नही लगता था। अपने पति के इसी व्वयहार से तंग आकर पत्नी जिम ट्रेनर के सम्पर्क में आयी।

दोनों का प्यार पवान चढ़ने पर महिला ने अपने पति को जान से मार देने के लिए अपने प्रेमी को तैयार किया।इसी कारण पत्नी ने अपने पति राजीव वर्मा के लंच बाक्स के माध्यम से प्रेमी को बता दिया था कि वह किस साइट पर मिलेगा।

बता दे कि आरोपित जिम ट्रेनर प्रेमी का भी नौ साल पहले किसी अन्य महिला से प्रेम विवाह हुआ था। पुलिस ने घटना में शामिल प्रबंधक की पत्नी,उसके प्रेमी जिम ट्रेनर व ट्रेनर के एक सहयोगी को गिरफ्तार करके जेल भेज दिया गया।

एसएसपी वैभव कृष्ण ने बताया कि शूटआउट केस के पर्दाफाश में लगी सूरजपुर कोतवाली प्रभारी मुनीष चौहान की टीम ने महज बीस दिन में आरोपितों पर शिकंजा कस दिया। दिल्ली के बुराडी के रहने वाले प्रबंधक राजीव वर्मा को चार गोलियां मारने के आरोप में उनकी पत्नी शिखा, जिम ट्रेनर शिखा के प्रेमी रोहित कश्यप और रोहन उर्फ मनीष को गिरफ्तार किया गया। तीनों ही आरोपित दिल्ली के रहने वाले है। आरोपितों के कब्जे से घटना में इस्तेमाल की गई पल्सर मोटरसाइकिल व एक पिस्टल और कारतूस बरामद की गई है।

पुलिस द्वारा पूछताछ में पता चला कि रोहित ने रोहन के साथ मिलकर प्रबंधक को ताबड़तोड़ गोलियां मारी थी। दोनों 22 जुलाई को भी प्रबंधक को गोली मारने आए थे लेकिन उस दिन बिल्डर की किसी अन्य साइट पर चला गया था। आरोपित रोहित कश्यप ने प्रबंधक की हत्या करने के लिए अलीगढ़ के एक युवक से पिस्टल ली थी। पुलिस उस युवक तक पहुंचने का प्रयास कर रही है।वह युवक भी जिम ट्रेनर बताया जा रहा है। पुलिस जांच में पता चला है कि दो महीने से प्रबंधक की हत्या की साजिश रची जा रही थी।

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर, Telegram पर फॉलो करे...
Next Story
Share it