Top
Home > राज्य > उत्तर प्रदेश > नोएडा > एसएसपी वैभव कृृष्ण ने सेना में फर्जी तरीके से भर्ती कराने वाले गैंग का किया पर्दाफाश

एसएसपी वैभव कृृष्ण ने सेना में फर्जी तरीके से भर्ती कराने वाले गैंग का किया पर्दाफाश

 Special Coverage News |  28 Nov 2019 6:21 AM GMT  |  नोएडा

एसएसपी वैभव कृृष्ण ने सेना में फर्जी तरीके से भर्ती कराने वाले गैंग का किया पर्दाफाश
x

धीरेन्द्र अवाना

नोएडा। अपराध व अपराधियों पर हो रही कारवाई में एक बार फिर पुलिस को बड़ी कामयाबी हाथ लगी है।जिले के तेज तर्रार व ईनामदार एसएसपी वैभव कृष्ण के कुशल नेतृव्य में होमगार्ड वेतन घोटाले के बाद अब एक और घोटाले का खुलासा हुआ है। पुलिस ने ऐसे गिरोह को पकड़ा है जो भारतीय सेना के अधिकारियों की मिलीभगत से लड़कों की भर्ती करवाते थे।इस तरह के कार्य को करके देश की सुरक्षा में सेंध लगाने प्रयास कर रहे है।

इसी क्रम में थाना बादलपुर पुलिस व एएसटी टीम के नेतृव्य में मुखबिर की सूचना पर चैकिंग के दौरान छपरौला गांव से एक गिरोह के तीन सदस्यों को गिरफ्तार किया जो सेना में फर्जी प्रमाण पत्र तैयार करके लड़को की भर्ती कराते थे। ये लोग सेना में कर्मचारियों से मिलीभगत करके लड़को की भर्ती करवाते थे। गिरफ्तार अभियुक्तगण आदेश कुमार,लव कुमार व प्रमोद कुमार का एक सुसंगठित गिरोह है जो सेना मे भर्ती होने वाले लडको के फर्जी दस्तावेज तैयार करते थे।

गिरफ्तार अभियुक्त सेना मे भर्ती करने वाले बोर्ड के अधिकारियो/कर्मचारियो से मिलीभगत करके लडको को फर्जी तरीके से सेना मे भर्ती करवाते है।अभियुक्त आदेश मिलिट्री से रिटायर है तथा सेना मे भर्ती कराने हेतु कोचिंग सेंटर खोल रखा है जिसकी आड मे कैंडिडेट को भर्ती कराने का झांसा देकर सेना मे भर्ती कराने का ठेका 5 से 7 लाख रुपये मे लेता था। जिसमे फिजीकल, मेडिकल पास कराने व वैरिफिकेशन तक की जिम्मेदारी इन्ही की होती है।

सेना मे भर्ती कराने वाले अधिकारी विभिन्न स्थानो के भर्ती सेंटरो (ए0आर0ओ) से सम्पर्क कर लडको को सेना मे भर्ती कराते है। यदि किसी अभ्यर्थी की लंबाई कम रह जाती है तो उसके फर्जी निवास प्रमाण पत्र व सामान्य जाति प्रमाण पत्र उत्तराखंड प्रान्त के तैयार कराकर उन्हे उत्तराखंड प्रान्त का कुमांऊ/गढवाली दर्शाकर सेना मे भर्ती करा देते है। इसके अलावा उत्तर प्रदेश के भी फर्जी प्रमाण पत्र स्वयं तैयार करते है। फर्जी तरीके से लडको को सेना मे भर्ती कराकर लाभ प्राप्त करते थे।

अभियुक्तों की पहचान आदेश कुमार पुत्र जगवीर सिंह निवासी अनेडा बुलन्दश,लव कुमार पुत्र हरेन्द्र सिंह निवासी अनेडा बुलन्दशहर और प्रमोद कुमार पुत्र जगवीर सिंह निवासी अनेडा बुलन्दशहर के रूप में हुयी है। वही दूसरी ओरवांछित अभियुक्तो अजीत उर्फ बग्गी,विक्की,सेन्डी हवलदार , विजय हवलदार फतेहगढ , सुबेदार दिवाकरन और राहुल पांडे की तलाश में पुलिस लगी हुयी है।जिनके कब्जे से एक लैपटाप मय चार्जर,एक प्रिन्टर फर्जी दस्तावेज तैयार करने मे प्रयुक्त,6 मोबाईल फोन,नौ ब्लेंक सामान्य निवास प्रणाम पत्र,24 रसीदी टिकट दो रुपये वाली, विभिन्न जनपदो के थाना व पोस्ट की सूची -13 वर्क,विभिन्न जनपदो से जारी स्थाई निवास प्रमाण पत्र व जाति प्रमाण पत्र की प्रतिया -44 वर्क,विभिन्न जनपदो से सत्यापन के सम्बन्ध मे बिना हस्ताक्षरित पत्र की प्रतिया -27 वर्क, ओ0आई0सी मिलिट्री हास्पिटल बरेली द्वारा जारी कांफिडेन्शल सूची -17 वर्क, नाँमिनल रोल कंेंडिडेट सैम्पल -3 वर्क, कैंडिडेट की रिव्यू सर्टिफिकेट की प्रतिया - 26 वर्क,38 कैंडिडेट के फोटो सहित एडमिट कार्ड , अंकतालिका आदि 22 कैंडिडेट के फिजिकल टेस्ट एडमिट कार्ड,मिलिट्री हास्पिटल बरेली की रिपोर्ट -7 वर्क,8 कैंडिडेट की एप्लीकेशन डिटेल्स एक कार स्विफ्ट बरामद हुयी है।पुलिस द्वारा सभी आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज करके जेल भेजा जा रहा है।

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर, Telegram पर फॉलो करे...
Next Story
Share it