Breaking News
Home > राज्य > उत्तर प्रदेश > नोएडा > नोएडा में चला कृष्ण का चक्र, दो बड़ी लूट और एक फर्जी फाइनेंस कंपनी खुलासा

नोएडा में चला कृष्ण का चक्र, दो बड़ी लूट और एक फर्जी फाइनेंस कंपनी खुलासा

 Special Coverage News |  23 Jun 2019 11:33 AM GMT  |  नोएडा

नोएडा में चला कृष्ण का चक्र, दो बड़ी लूट और एक फर्जी फाइनेंस कंपनी खुलासा

नोएडा: जब से जिले की कमान एसएसपी वैभव कृष्ण के हाथ में आई तब से लगातार अपराध के ग्राफ में गिरावट होती नजर आई. लेकिन सबसे बड़ी बात यह थी कि कितनी भी बड़ी घटना रही हो ज्यादातर के समय रहते हुए खुलासे भी हुए. एसएसपी वैभव कृष्ण के आने के बाद लगा कि अपराध में बढ़ोत्तरी हो रही है लेकिन नहीं उनकी कार्यकाल में छोटे बड़े सभी मामले दर्ज हो रहे थे. और जिनमें दर्ज होने में आनाकानी होती है उन्हें वो खुद भी दर्ज कराते है. जब अपराध दर्ज होना शुरू होता है तो लगता है कि अपराध बढ़ रहा है नहीं बल्कि अब खात्मा हो रहा है जैसा नोएडा में हुआ.


आज एक साथ तीन बड़ी वारदातों का खुलासा किया गया जिनमें एक सेक्टर 20 थाना की लूट , दादरी में पच्चीस लाख की लूट का आरोपी , फेस थ्री थाना इलाके में एक फर्जी फाइनेंस कंपनी का खुलासा किया गया.


थाना फेस 3 द्वारा फर्जी फाईनेन्स कम्पनी चलाने वाले गिरोह का पर्दाफाश

22.जून 19 को थाना फेस-3 पुलिस द्वारा ए- 82 सैक्टर 63 नोएडा से 9 अभियुक्तो को गिरफ्तार किया गया है. अभियुक्तगण शातिर अपराधी है. गिरफ्तार अभियुक्तगण के कब्जे से 90 हजार रुपये नगद व भारी मात्रा में कम्पनी के लोन सेंशन फार्म व लैटर पैड व कम्पनी को संचालित करने के लिये प्रयोग किये गये 19 मोबाइल व दो कार जिसमें एक स्विफ्ट नम्बर यूपी 15 सीयू 0090 व दूसरी आई 20 नम्बर यूपी 15 बीएक्स 0031 बरामद हुई है.

एसएसपी वैभव कृष्ण ने बताया कि अभियुक्त गण द्वारा वादी को अपनी कम्पनी नवजीवन इन्फो सॉल्यूशन प्राइवेट लिमिटेड में डीएसए (डायरेक्ट सेलिंग एसोसिएट) के पद पर फर्जी रूप से नियुक्त करने व वादी से 6 लाख 20 हजार रूपये धोखाधडी कर लोन देने के नाम पर रूपये वसूले गयेे थे. दिनांक 22.06.2019 को थाना फेस 3 पुलिस द्वारा ए- 82 सैक्टर 63 नोएडा से 09 अभियुक्तो को गिरफ्तार किया गया है। अभियुक्तगण शातिर अपराधी है. गिरफ्तार अभियुक्तगण के कब्जे से 90 हजार रुपये नगद व भारी मात्रा में कम्पनी के लॉन सेंशन फार्म व लैटर पैड व कम्पनी को संचालित करने के लिये प्रयोग किये गये 19 अदद मोबाइल व दो कार जिसमें एक स्विफ्ट नम्बर यूपी 15 सीयू 0090 व दूसरी आई 20 नम्बर यूपी 15 बीएक्स 0031 बरामद हुई है. इस गिरोह का सरगना राजा उर्फ नजर नवाज पुत्र हसमत नवाज निवासी गोला कुंआ हापुड अड्डा थाना कोतवाली जिला मेरठ है.

एसएसपी ने बताया कि गिरफ्तार अभियुक्तो ने पुलिस को पूछताछ में बताया कि ये लोगो से नवजीवन इन्फो सॉल्यूशन के नाम पर फर्जी लोन कम्पनी चलाते है तथा आम जनता के लोगो से लोन कराने के नाम पर 1 लाख से 9 लाख तक 3500 रुपये तथा 9 लाख से 1 करोड रुपये तक 4130 रुपये फाइल चार्ज के रुप में व लोन पास कराने के नाम पर प्रोसेसिंग फीस के रुप में 12430 रुपये वसूलते है. इन लोगो ने आज तक किसी का कोई लोन स्वीकृत नही किया है. अभियुक्तगणो द्वारा बताया गया कि उनके द्वारा काफी लोगो से इसी प्रकार का फर्जीवाडा कर रूपये वसूल किये गये है। कम्पनी हेड राजा उर्फ नजर नवाज व उसके अन्य साथियो की गिरफ्तारी के प्रयास जारी है.

थाना दादरी पुलिस द्वारा 25 लाख 12 हजार रूपये लूट की घटना का 25 हजार रूपये का इनामी अभियुक्त गिरफ्तार व पूर्ण घटना का खुलासा

23.जून .2019 को मुखबिर की सूचना पर थाना दादरी पुलिस द्वारा बुलन्दशहर के आढती के मुनीमो से 25 लाख 12 हजार रूपये की लूट के वांछित 25 हजार के इनामी अभियुक्त वेदू उर्फ वेदराम को लूट के 8 लाख रूपये व अभियुक्त वेदू से पूछताछ में प्रकाश में आये एक अन्य अभियुक्त अजय उर्फ कवरपाल पुत्र ओमपाल निवासी कस्बा बिलासपुर थाना दनकौर गौतमबुद्धनगर को लूट के 50 हजार रूपये सहित गिरफ्तार किया गया है.



एसएसपी वैभव कृष्ण ने बताया कि थाना दादरी क्षेत्र में 5.जून.2019 को घोडी बछेडा रामगढ फाटक के पास इरफान अहमद खान पुत्र गुफरान अहमद खान नि0 नई मण्डी बुलन्दशहर के मुनीम कपिल व अमित से 25 लाख 12 हजार रूपये मय वैगन आर कार लूट ली गयी थी. इस घटना के अभियुक्त सुनील, उमेश, परमेन्द्र उर्फ बिट्टू को 10 लाख 50 हजार रूपये व लूटी गयी वैगन आर कार व घटना में प्रयुक्त स्कार्पियो गाडी व मोटर साईकिल के साथ 17.जून.2019 को गिरफ्तार कर जेल भेजा गया था तथा अभियुक्त रोबिन को लूट के 1 लाख 60 हजार रूपये व लूटे के रूपयो से खरीदी गयी ईको वैन गाडी के साथ पुलिस मुठभेड के दौरान घायल अवस्था में गिरफ्तार किया गया था. घटना मे शामिल अभियुक्त सचिन द्वारा दिनांक 17.06.2019 को पुलिस की घेराबन्दी व दबाव के चलते माननीय न्यायालय में आत्मसम्पर्ण किया गया था. अभियुक्त वेदू उर्फ वेदराम पुत्र भूलेराम निवासी कनारसी थाना दनकौर गौतमबुद्धनगर की गिरफ्तारी पर वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक गौतमबुद्धनगर द्वारा 25000 रूपये का इनाम घोषित किया गया था.इस प्रकार 25 लाख 12 हजार रूपयो की लूट में से अब तक 20 लाख 60 हजार रूपये नगद व लूट के पैसो से खरीदी गयी ईको गाडी बरामद की गयी है.


एसएसपी ने बताया कि सुनील उर्फ चुन्नू, परमेन्द्र व उमेश जो की बुलन्दशह मण्डी में ही आडत का काम करते है. इनका व्यापार कुछ मन्दा चल रहा था व इरफान का व्यापार अच्छा चल रहा था तो इन तीनो अभियुक्तगण ने ईष्र्यावश इरफान से लूट पाट व मारपीट की योजना बनायी व उमेश ने अपने गाँव के रोबिन को तैयार किया. रोबिन ने वेदू व सचिन को घटना के लिए तैयार किया. घटना की रैकी उमेश , पिन्टू व सुनील द्वारा स्कार्पियो से की गयी तथा अमित व कपिल द्वारा अल्फा 1 से आखरी कैश लेने के उपरान्त अपने साथियोें वेदू, रोबिन व सचिन को सूचना दी. घोडी बछेडा के पास वेदू , रोबिन व सचिन ने घटना को अंजाम दिया .

वेदू द्वारा बताया गया कि उसने एक अन्य साथी अजय को घटना के लिए तैयार किया था जिसकी जानकारी केवल उसे ही थी उसने उसे रामगढ फाटक की तरफ आगे खडा होने को कहा था . यदि उनसे वैगन आर में सवार अमित व कपिल निकल जाते तो अजय उन्हे आगे रूकवा लेता और वे आगे घटना को अंजाम देते. अजय उससे अपने हिस्से के पैसे लेने के लिए आया था. इसनेे लूटे गये पैसो मे से 50,000 रूपये उसे दिये थे. पूर्व में इसनेे 4-4 लाख रूपये उमेंश, सुनील, व पिन्टू को दिये थे व 3 लाख रूपये रोबिन को दिये थे व 1लाख 62 हजार रूपये सचिन को दिये थे और पैसा सचिन को बाद मे देने के लिए कहा था. आज यह अपने खेत से बाकी बचा पैसा निकाल कर जो इसनेे 5 किलो के एक प्लास्टिक के डब्बे में रखकर खेत में गाडे थ,े निकाल कर अपने साथी अजय के साथ जँहागीराबाद जा रहा था.

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Next Story

नवीनतम

Share it
Top