Top
Begin typing your search...

मुख्यमंत्री योगी पहुंचे प्रयागराज ,बाढ़ ग्रस्त क्षेत्रों का किया हवाई निरीक्षण

मुख्यमंत्री योगी पहुंचे प्रयागराज ,बाढ़ ग्रस्त क्षेत्रों का किया हवाई निरीक्षण
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

शशांक मिश्रा

पिछले कई दिनों से प्रयागराज में आई बाढ़ से बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में जनमानस का बुरा हाल है प्रशासन पूरी मुस्तैदी के साथ बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में राहत सामग्री वितरित कर रहा है और नाव द्वारा लोगों को निकाला जा रहा है बीते कल सूबे के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्या ने बाढ़ प्रभावित क्षेत्र का निरीक्षण किया और लोगों को राहत सामग्री वितरित की आज मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ प्रयागराज पहुंचे

सीएम योगी आदित्यनाथ ने प्रयागराज के बाढ़ ग्रस्त क्षेत्रों का हवाई निरीक्षण किया. हवाई सर्वेक्षण कर बाढ़ ग्रस्त इलाकों का लिया जायजा. हवाई सर्वेक्षण के बाद सीएम योगी न्यू कैंट स्कूल में बनाए गए बाढ़ शिविर पहुंचे. बाढ़ शिविर का सीएम योगी ने निरीक्षण किया. सीएम योगी ने बाढ़ शिविर में रह रहे लोगों से बातचीत की.




सीएम योगी ने लोगों से बाढ़ शिविर में मिल रही सुविधाओं की जानकारी ली. सीएम योगी ने बाढ़ शिविर में रह रहे लोगों को वितरित की राहत सामग्री. सीएम योगी ने मीडिया से बातचीत में कहा, यह आपदा है, इस आपदा में राहत पहुंचाने के लिए प्रशासन ने सभी व्यवस्थाएं कर ली हैं,हमारी व्यवस्थाओं से सभी पीड़ित संतुष्ट हैं, पर्याप्त मात्रा में धनराशि हर बाढ़ प्रभावित जिले को मुहैया करा दी गई है, बाढ़ से बचाव के सभी इंतजाम पहले ही कर लिए गए थे, मानसून भर किसी भी जिले में बाढ़ नहीं आई,अब अंतिम समय में प्रयागराज, इटावा, हमीरपुर,औरैया, वाराणसी और गाजीपुर जिलों के निचले इलाकों में पानी घुस गया है,

सीएम ने कहा कि एक लाख से ज्यादा आबादी बाढ़ से प्रभावित है,नाव से लोगों को सुरक्षित जगहों पर पहुंचाने के इंतजाम किए गए हैं,सुरक्षा के मद्देनजर पेट्रोलिंग कराई जा रही है,लोगों को शुद्ध भोजन और शुद्ध पानी मुहैया कराया जा रहा है,इसके साथ ही पीड़ितों को खाने पीने के सामान भी राहत सामग्री के तौर पर दिए जा रहे हैं,पशुओं के चारे की व्यवस्था की गई है, किसी तरह की जनहानि होने पर 24 घंटे में पीड़ितों को राहत व उनके परिवार वालों को मुआवजा देने की व्यवस्था की गई है,उम्मीद है आज शाम से जलस्तर बढ़ना थम जाएगा और अगले दो से 3 दिनों में राहत मिलनी शुरू हो जाएगी.

Next Story
Share it