Top
Begin typing your search...

पूर्व बाहुबली सांसद अतीक अहमदाबाद जेल के लिए हुए रवाना

पूर्व बाहुबली सांसद अतीक अहमदाबाद जेल के लिए हुए रवाना
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

शशांक मिश्रा

पूर्व सांसद अतीक अहमद प्रयागराज नैनी जेल से बनारस हवाई अड्डा के लिए रवाना हो चुके है. वाराणसी के लाल बहादुर शास्त्री हवाई अड्डे से गुजरात की साबरमती सेंट्रल जेल अहमदाबाद भेजे गए है। उनको जेल भेजे जाने की औपचारिकता तीन दिन पहले हो गई थी चूँकि हवाई टिकिट सरकार उपलब्ध नहीं करा पा रही थी इसलिए आज टिकिट मिलने पर भेजे गए है।

लोकसभा चुनाव के दौरान बरेली जेल से नैनी जेल में शिफ्ट किए जाने के बाद फूलपुर लोकसभा सीट से अतीक अहमद के चुनाव लड़ने की चर्चा जोरों पर थी !इसी बीच सुप्रीम कोर्ट ने उत्तर प्रदेश सरकार को निर्देश दिया था कि अतीक को नैनी जेल से हटाकर गुजरात की किसी जेल में रखा जाए। इसके साथ ही देवरिया जेल में लखनऊ के प्रॉपर्टी डीलर को पीटने के प्रकरण की सीबीआई से जांच कराई जाए। अब सुप्रीम कोर्ट के आदेश के इतने दिनों के बीत जाने के बाद भी आदेश की कॉपी नही मिलने से नैनी जेल से अहमदाबाद जेल में नही शिफ्ट किया जा सका था ! अब आदेश मिलने के बाद नैनी जेल प्रशासन की ओर से अहमदाबाद जेल भेजने की कागजी कार्रवाई पूरी होने के बाद आज अतीक को अहमदाबाद जेल भेजा जा रहा है।

आईएएस 227 गैंग के सरगना अतीक अहमद के सनसनीखेज कारनामों को देखते हुए सुप्रीम कोर्ट ने उत्तर प्रदेश सरकार को निर्देश दिया था कि अतीक को नैनी जेल से हटाकर गुजरात की किसी जेल में रखा जाए। इसके साथ ही देवरिया जेल में लखनऊ के प्रॉपर्टी डीलर को पीटने के प्रकरण की सीबीआई से जांच कराई जाए। सीबीआई को जांच के दौरान सुप्रीम कोर्ट को प्रगति रिपोर्ट देने का निर्देश दिया गया था। लेकिन उत्तर प्रदेश सरकार ने चुनाव के कारण अतीक अहमद को उस वक्त नैनी जेल से नहीं भेजा था। चर्चा थी कि चुनाव खत्म होने के बाद अतीक को गुजरात जेल में ट्रांसफर किया जाएगा।

बताया जा रहा है कि इस मामले में उत्तर प्रदेश सरकार ने गुजरात सरकार से बात की। सेंट्रल जेल अहमदाबाद में अतीक को शिफ्ट करने का आदेश जारी हुआ। लेकिन अतीक के खाने पीने का खर्च उत्तर प्रदेश सरकार को देना होगा। डीआईजी जेल बीआर बर्मा ने बताया कि नैनी जेल प्रशासन की ओर से अहमदाबाद जेल प्रशासन को तीन लाख रुपये का ड्राफ्ट भेजा जा रहा है। तीन महीने के बाद खर्च की दूसरी किस्त भेजी जाएगी।

Next Story
Share it