Top
Begin typing your search...

प्रयागराज : पुलिस विभाग की भर्ती में पकड़े गए 15 मुन्ना भाई

प्रयागराज : पुलिस विभाग की भर्ती में पकड़े गए 15 मुन्ना भाई
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नितिन द्विवेदी, प्रयागराज

प्रयागराज पुलिस को उस वक्त एक बड़ी सफलता मिली जब अपने ही विभाग की परीक्षा मे गलत अभ्यर्थी परीक्षा देने आये थे सिपाही भर्ती परीक्षा में पकड़े गए 15 मुन्ना भाई शारीरिक मानक परीक्षण में बायोमेट्रिक मिलान के वक्त पकड़े गए सभी आरोपियों को पकड़कर प्रयागराज पुलिस ने जेल भेज दिया है l

सिपाही भर्ती परीक्षा 2018 के शारीरिक मानक परीक्षण के दौरान 15 मुन्ना भाइयों को सोमवार को पुलिस लाइन में पकड़ लिया गयाl अलग अलग से तिथियों में हुई लिखित परीक्षा के दौरान इनकी जगह किसी और ने परीक्षा दी थी बायोमेट्रिक मिलान के दौरान 15 अभ्यर्थियों को पकड़ा गया उनकी मार्कशीट तथा दस्तावेजों को मिलान किया गया सभी को गिरफ्तार कर मंगलवार को जेल भेज दिया गया हैl

पुलिस स्टाफ सिपाही भर्ती 2018 की लिखित परीक्षा के बाद अभ्यर्थियों को 6 जनवरी को पुलिस लाइन में शारीरिक मानक परीक्षण के लिए बुलाया गया था इस दौरान फिंगरप्रिंट फोटो तथा हस्ताक्षर का मिलान शुरू हुआ तो 15 अभ्यर्थियों के बायोमेट्रिक पहचान लिखित परीक्षा से अलग निकले तो फोटो में भी छेड़छाड़ की गयी थी ल

संदेह के घेरे में आए अभ्यर्थियों से कड़ी पूछताछ की गई उनके दस्तावेजों को चेक करने के बाद दरोगा बैकुंठ नाथ पांडे की तहरीर पर कर्नलगंज थाने में अर्जुन सरोज, सचिन कुमार सरोज, आशीष ज्ञान चंद्र सरोज, सुजीत कुमार, संतोष कुमार, संतोष, राकेश कुमार, अमित कुमार, मनोज भारतीय, सुनील कुमार, मानिक चंद्र, रमेश कुमार, और धर्मराज के खिलाफ धारा 420 और उप्र सार्वजनिक परीक्षा अधिनियम के तहत रिपोर्ट दर्ज कर ली गई हैl

इंस्पेक्टर कर्नलगंज एके त्यागी ने बताया कि मंगलवार को 15 अभ्यर्थियों को जेल भेज दिया गया अभ्यर्थियों ने लिखित परीक्षा में किसी और को बिठाया था वहां अंगूठे के निशान के आधार पर अभ्यर्थियों को शारीरिक मानक परीक्षण में पकड़ लिया गया है सभी आरोपियों के खिलाफ 420 और उप्र परीक्षा अधिनियम के तहत दर्ज की गई है रिपोर्ट, फिलहाल प्रयागराज पुलिस इसे एक बड़ी उपलब्धि मान रही है l

Next Story
Share it