Top
Breaking News
Home > राज्य > उत्तर प्रदेश > रामपुर > आज़म खान की गिरफ्तारी के लिए धाराएं काफी, कभी भी हो सकते है गिरफ्तार जानिये क्यों?

आज़म खान की गिरफ्तारी के लिए धाराएं काफी, कभी भी हो सकते है गिरफ्तार जानिये क्यों?

आज़म खान के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने वाले ये 26 किसान अब इलाहाबाद हाईकोर्ट (Allahabad High Court) भी पहुंच गए हैं.

 Special Coverage News |  10 Aug 2019 6:02 AM GMT  |  रामपुर

आज़म खान की गिरफ्तारी के लिए धाराएं काफी, कभी भी हो सकते है गिरफ्तार जानिये क्यों?

समाजवादी पार्टी (सपा) के सांसद आज़म खान पर आफ़त आनी खत्म नहीं हुई है. अब उनपर गिरफ्तारी का तलवार लटक रही है. रामपुर के एसपी डॉ. अजय पाल ने बताया कि सपा सांसद आज़म खान पर दर्ज मुकदमों के आधार पर उनकी गिरफ्तारी संभव है. उन्होंने बताया कि जौहर अली यूनिवर्सिटी के लिए किसानों की जमीन जबरन हड़पने को लेकर आज़म के खिलाफ किसानों ने 26 मुकदमे दर्ज कराए हैं. आज़म खान के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने वाले ये 26 किसान अब इलाहाबाद हाईकोर्ट (Allahabad High Court) भी पहुंच गए हैं.

गिरफ्तारी के लिए धाराएं काफी

एसपी अजय पाल ने बताया कि इससे पहले किसानों की ओर से लगातार दर्ज हो रहे मामलों के बाद अब रामपुर शहर कोतवाली में आज़म समेत चार लोगों पर शत्रु संपत्ति का मामला दर्ज किया गया है. नायब तहसीलदार की तरफ से दर्ज किए गए इस मामले में आरोप लगाया गया है कि जौहर विश्वविद्यालय ट्रस्ट और आज़म खान को फायदा पहुंचाने के लिए ईओ ने कागजों में हेराफेरी कर गलत नोटिस जारी किया. वहीं सपा सांसद आज़म खान पर दो मुकदमे महिलाओं पर अभद्र टिप्पणी करने के आरोप में दर्ज किए जा चुके हैं. ऐसे में जो धाराएं लगी है वो उनकी गिरफ्तारी के लिए काफी हैं.

26 किसानों की ज़मीन हड़पने का आरोप

बता दें कि आज़म खान पर वर्ष 2003 से लेकर 2005 के बीच 26 किसानों की जमीन जबरन हड़पने और उसे जौहर अली यूनिवर्सिटी परिसर में शामिल करने का गंभीर आरोप है. सभी किसानों ने जमीन हड़पे जाने के मामले में हाल ही में रामपुर के अजीम नगर थाने में सपा सांसद के खिलाफ आईपीसी की धारा 323, 242, 447, 506 और 389 के तहत मुकदमा दर्ज कराया है.

आज़म खान के खिलाफ जमीन हड़पने के मामले में कुल 27 मुकदमे अब तक दर्ज हो चुके हैं. 26 मुकदमे किसानों की ओर से दर्ज कराए गए हैं, जबकि एक मुकदमा राज्य सरकार की ओर से राजस्व निरीक्षक ने दर्ज कराया है, इसमें भी उन पर जमीन हड़पने का आरोप लगाया गया है.

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Next Story

नवीनतम

Share it