Home > भाजपा प्रदेश अध्यक्ष डॉ महेन्द्र नाथ पाण्डेय ने कैराना लोकसभा उपचुनाव की नामांकन सभा में कार्यकर्ताओं में भरा जोश

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष डॉ महेन्द्र नाथ पाण्डेय ने कैराना लोकसभा उपचुनाव की नामांकन सभा में कार्यकर्ताओं में भरा जोश

मृगांका सिंह को भारी बहुमत से जिताकर लोकसभा में पहुंचाने का प्रण लें कार्यकर्ता

 शिव कुमार मिश्र |  2018-05-10 14:51:33.0  |  शामली

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष डॉ महेन्द्र नाथ पाण्डेय ने कैराना लोकसभा उपचुनाव की नामांकन सभा में कार्यकर्ताओं में भरा जोश

शामली: भारतीय जनता पार्टी प्रदेश अध्यक्ष डॉ महेन्द्र नाथ पाण्डेय ने कैराना लोकसभा उपचुनाव में भाजपा प्रत्याशी श्रीमती मृगांका सिंह की नामांकन सभा को संबोधित किया। कैराना में नामांकन सभा को संबोधित करते हुए डॉ पाण्डेय ने कहा कि स्वर्गीय हुकुम सिंह जी ने इस क्षेत्र का बहुत विकास किया है वो हमेशा सभी के साथ सुख-दुख में खड़े होकर उन्होंने साथ दिया है। किसानों की लड़ाई सबसे आगे बढ़कर उन्होंने हमेशा लड़ी है। चाहे गन्ने का मामला रहा हो, चाहे गेहॅॅू का मामला रहा हो, चाहे बिजली का मामला रहा हो, यह फिर सिचाई यह फिर कानून व्यवस्था का मामला रहा हो। उन्होंने हमेशा किसानों के लिए हर मोर्चा संभाला था।



डॉ पाण्डेय ने कहा मैं आप सबसे अपील करता हूॅ अब आप सभी मृगांका सिंह के माता भी है और पिता भी है और मृगांका बच्चो की बुआ भी है। इनको लोकसभा में भेजकर स्वर्गीय हुकुम सिंह जी को सच्ची श्रद्धाजंलि होगी। उन्होंने कहा पिछली सरकार में अपराध अपने चरम पर था, बदमाश सरेराह लूट, हत्याएं और अपहरण करते थे, कैराना से पलायन हो रहा था लेकिन जैसा हमने वादा किया था, योगी सरकार में अपराधियों के मन में भय उत्पन्न कर दिया है आज अपराधी गले में तख्ती डालकर सरे बाजार अपने गुनाहों की माफी देने की भीख मांगता घूम रहा है। प्रदेश में जंगल राज से जनता को छुटकारा मिला है। योगी राज में कानून का राज स्थापित किया है।



डॉ पाण्डेय ने जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि केन्द्र की मोदी सरकार और प्रदेश की योगी सरकार गांव-गरीब व हर दुखी तक घर-मकान, गैस, बिजली पहुंचाने के लिए उनके द्वार पर खड़ी है। आजाद भारत में आपातकाल के अत्याचारों के विरोध में 1977 में उ0प्र0 ने पूरी 85 सीटें जनता पार्टी को दी थी। उ0प्र0 की जनता ने जब यह देखा कि 10 वर्ष तक एक कमजोर प्रधानमंत्री ने सपा-बसपा के सहयोग से कमजोर सरकार को चलाया, जिस कमजोर सरकार के राज में देश कमजोर हुआ, सीमाएं कमजोर हुई, घोटालों का अंबार लगा, तो यूपी की जनता ने कड़ा और बड़ा फैसला करते हुए नरेन्द्र मोदी जी के रूप में ऐसा नेतृत्व चुना जो कर्मठता, ईमानदारी, चरित्र, सेवा और गांव-गरीब के हितैषी के रूप में है और जनता ने प्रदेश में 80 में से 73 लोकसभा सीटें भाजपा की झोली में डाल दी।




डॉ पाण्डेय ने कहा कि मोदी जी को यूपी की जनता ने दिल्ली में बैठाया तो 325 विधानसभा सीटों के साथ योगी जी को यूपी की सत्ता सौंपी। यह परिस्थितयां कुछ लोगों को पच नहीं रही है, उन्हें लगता है कि यह साफ-सुथरी जनसेवा का काम करने वाली योगी-मोदी सरकारेें अगर लम्बे समय तक रह गई तो हमारी राजनीति की दुकानें बंद हो जायेगी। स्व0 हुकुम सिंह जी की सुपुत्री को पार्टी ने चुनाव मैदान में उतारा है, उन्हें जिताने की जिम्मेदारी हर एक कार्यकर्ता की है।

Tags:    
Share it
Top