Top
Home > राज्य > उत्तर प्रदेश > शामली > शामली में विदेशियों की गिरफ्तारी: आखिर मदरसे के छात्रों ने थाईलैंड में कैसे बना लिया आलीशान मकान?

शामली में विदेशियों की गिरफ्तारी: आखिर मदरसे के छात्रों ने थाईलैंड में कैसे बना लिया आलीशान मकान?

शामली पुलिस अब इस मामले की जांच कर रही है कि आखिर मदरसे में पढ़ने वाले छात्रों ने विदेश में आलीशान मकान बनाए किस उद्देश्य से.

 Special Coverage News |  31 July 2019 5:02 PM GMT  |  शामली

शामली में विदेशियों की गिरफ्तारी: आखिर मदरसे के छात्रों ने थाईलैंड में कैसे बना लिया आलीशान मकान?

यूपी के शामली में अवैध रूप से रहने वाले म्यांमार के चार युवकों को लेकर पुलिस जल्द ही नए खुलासे करने वाली है. पुलिस का कहना है कि वो इनके रिमांड के लिए अर्जी दाखिल करेगी. साथ ही खुफिया विभाग को जानकारी मिली है कि गिरफ्तार भाईयों में दो के थाईलैंड में आलीशान मकान हैं. वहीं पुलिस अब इस मामले की जांच कर रही है कि आखिर मदरसे में पढ़ने वाले छात्रों ने विदेश में आलीशान मकान बनाए किस उद्देश्य से.

जलालाबाद में पुलिस ने म्यांमार निवासी अब्दुल मजीद, नोमान, फुरकान और रिजवान को अवैध रूप से रहने के आरोप में गिरफ्तार किया था. इनके साथ ही तीन मदरसा संचालकों को भी पुलिस ने विदेशियों को शरण देने और उनके बारे में पुलिस-प्रशासन को जानकारी न देने के आरोप में गिरफ्तार किया था.

राष्ट्र की आंतरिक सुरक्षा को बताया खतरा

इस मामले में पुलिस चारों आरोपियों को रिमांड पर लेने की तैयारी में जुट गई है. पुलिस इनके बयान और उनसे मिले दस्तावेजों को साक्ष्य के तौर पर कोर्ट में पेश कर रिमांड के लिए कोर्ट में अर्जी दाखिल करेगी. इसके लिए पुलिस फाइल तैयार कर रही है. पुलिस सूत्रों के मुताबिक राष्ट्र की आंतरिक सुरक्षा को केंद्र में रखकर पुलिस कई बिंदुओं पर खाका तैयार करने में जुटी है.

मदरसे में रह रहे थे आरोपी

पुलिस और खुफिया टीम ने जलालाबाद की खुशनुमा कॉलोनी में छापेमारी कर मदरसे में पढ़ाने वाले अब्दुल मजीद और पढ़ने वाले तीन भाई नोमान, फुरकान और रिजवान को गिरफ्तार किया था. जांच में चारों म्यांमार के निवासी पाए गए, जो यहां पर अवैध रूप से रह रहे थे.

रविवार को पुलिस ने किया था गिरफ्तार

अब्दुल मजीद को मदरसे में बतौर शिक्षक रखने, अन्य तीनों को दाखिला देने और उनके बारे में प्रशासन को सूचना न देने के आरोप में दारुल उलूम मदरसा जलालाबाद के मोहतमिम वासिफ अमीन, मदरसा अशफिया थानाभवन के प्रबंधक कारी आशरफ, मिफ्ता उल उलूम जलालाबाद के मोहतमिम/प्रबंधक मौलाना हफीयुल्ला की भूमिका को संदिग्ध मानते हुए गिरफ्तार किया था.

दोनों भाइयों का थाईलैंड के आलीशान मकान

म्यांमार के तीनों भाइयों के पकड़े जाने के बाद पूछताछ में यह बात भी सामने आई है कि उनका थाईलैंड में आलीशान मकान है. म्यांमार के मूल निवासी होने के बाद और मदरसे में पढ़ने वाले युवकों का थाईलैंड में मकान की जानकारी मिलने पर खुफिया विभाग भी सकते में है.

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Next Story

नवीनतम

Share it