Home > राज्य > उत्तर प्रदेश > शामली > शामली : पलायन को बनाया हथियार

शामली : पलायन को बनाया हथियार

जनपद शामली सदर कोतवाली क्षेत्र कॉलोनी की कृष्णा कुंज कॉलोनी करौली का है जहां पर नाले के विवाद में हंगामा हो गया..

 Special Coverage News |  17 July 2019 6:27 AM GMT  |  दिल्ली

शामली : पलायन को बनाया हथियार

अमर की रिपोर्ट

शामली में अब पलायन को लोगों ने हथियार बना लिया, जिसमें अगर प्रशासन इमानदारी से कार्य करती है, या फिर पीड़ित का साथ देती है, तो लोग पलायन जैसी बातें करने लगते हैं , जिसमें सरकार को भी बदनाम करने का कुछ लोग कार्य कर रहे हैं, प्रशासन मुर्दाबाद सरकार मुर्दाबाद के नारे बाजी भी लोगों ने की, अपने मकानों के बाहर लिख दिया गया यह मकान बिकाऊ है, मंदिर की भूमि पर जबरन कब्जे को लेकर हुआ विवाद, प्रशासन ने भूमि से कब्जा कराया मुक्त।

दरअसल आपको बता दें मामला जनपद शामली सदर कोतवाली क्षेत्र कॉलोनी की कृष्णा कुंज कॉलोनी करौली का है जहां पर नाले के विवाद में हंगामा हो गया। पुलिस और प्रशासन के रवैये से खफा स्थानीय लोगों ने अपने घरों पर 'पलायन: ये घर बिकाऊ है' लिख लिया है। हंगामे की सूचना पर पेमाइश के लिए राजस्व विभाग की टीम भी पहुंची है।

जिसमें करीब 200 परिवार रहते हैं। पास में ही एक बाबा शेरनाथ ने जमीन ली हुई है जिस जमीन पर मंदिर बनाया गया और अपनी जमीन पर नाला निर्माण कर कब्जे की शिकायत पुलिस-प्रशासन से की थी। मंगलवार शाम कोतवाली पुलिस मौके पर पहुंची और बाबा के मजदूरों ने नाले को पाटना शुरू कर दिया। इस पर स्थानीय लोग आक्रोशित हो गए और हंगामा करने लगे। स्थानीय लोगों का कहना था कि उपजिलाधिकारी ने पेमाइश के आदेश किए थे, लेकिन पुलिस ने बिना पेमाइश हुए ही जबरन नाले पर नाका लगा दिया गया है। इससे घरों से निकलने वाले पानी की निकासी रूक गई है। लगातार बारिश हो रही है और ऐसे में जलभराव होगा। पुलिस-प्रशासन के रवैये से आहत हैं और कॉलोनी के सभी लोगों ने यहां मकान बेचकर पलायन करने का निर्णय लिया है। कहीं कोई सुनवाई नहीं हो रही। वैसे भी पानी की निकासी को बिना कोई इंतजाम किए नहीं रोका जा सकता। हंगामे की सूचना पर शाम करीब सात बजे पेमाइश के लिए राजस्व विभाग की टीम पहुंची।

जनपद शामली के सदर कोतवाली क्षेत्र कृष्णा कुंज कॉलोनी में लोगों ने प्लेन को हथियार बनाते हुए आरोप लगाया कि भू माफियाओं ने गंदे पानी का नाला बंद करा दिया।

भू माफियाओं के प्रताड़ना से तंग आकर कॉलोनी वासियों ने योगी आदित्यनाथ सरकार और प्रशासन के खिलाफ लगाए मुर्दाबाद हाय हाय के नारे हाथों में महिलाओंओर पुरुषों ने पोस्टर लेकर धर्म परिवर्तन पलायन करने को कहा

कॉलोनी वासियों का कहना है भू माफियाओं ने कॉलोनी में नाले से घंटे पानी निकासी को रोक दिया है और हमारी कॉलोनी में एक सड़क बनाना चाहते हैं हम ने शासन-प्रशासन से गुहार लगाई थी लेकिन प्रशासन ने भू माफिया को 151 में जेल भेज कर इतिश्री कर दी थी आज सभी कॉलोनी वासियों ने इकट्ठा होकर पुलिस के सामने नारेबाजी कर विरोध प्रदर्शन किया।

वहीं, कोतवाली प्रभारी निरीक्षक सुभाष राठौर ने बताया कि जिस व्यक्ति की जमीन पर नाला बनाया गया था, उनके द्वारा ही नाले को पाटने का काम किया। यह भूमि मंदिर की है। पुलिस सुरक्षा व्यवस्था के मद्देनजर गई थी। पेमाइश प्रशासन को करनी है। उधर, नगर पालिका के अधिशासी अधिकारी सुरेंद्र यादव का कहना है कि उन्हें ऐसे कोई मामले की जिम्मेदारी नहीं है। पता किया जाएगा कि नाला नगर पालिका का है या नहीं।

विवाद की जानकारी मिली है। कानूनगो और लेखपाल को मौके पर भेजा है। जो भी सही होगा, उसके अनुरूप कार्रवाई होगी।

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Next Story
Share it
Top