Home > राज्य > उत्तर प्रदेश > सुल्तानपुर > एक शाम शहीदों के नाम कवि सम्मेलन में शामिल होने पहुंचे मोती सिंह मंत्री

एक शाम शहीदों के नाम कवि सम्मेलन में शामिल होने पहुंचे मोती सिंह मंत्री

 Special Coverage News |  2018-10-01 15:03:04.0  |  सुल्तानपुर

एक शाम शहीदों के नाम कवि सम्मेलन में शामिल होने पहुंचे मोती सिंह मंत्री

लालजी

पाक आतंकियो के विरुद्ध भारतीय सेना द्वारा चलाए गए सर्जिकल स्ट्राइक की दूसरी वर्ष गांठ पर सुल्तानपुर में एक शाम शहीदों के नाम कार्यक्रम में प्रदेश के संपत्ति व् ग्राम्य विकास मंत्री राजेन्द्र प्रताप उर्फ मोती सिंह ने आठ शहीदों के परिजनों को अंगवस्त्र व् प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया।इस कार्यक्रम में काशी प्रान्त के उपाध्यक्ष राम चन्द्र मिश्र,भाजपा जिलाध्यक्ष जगजीत सिंह छंगू,नगर पालिका अध्यक्ष बबिता जायसवाल समेत बड़ी संख्या में गणमान्य लोग उपस्थित थे।

प्रदेश के संपत्ति व् ग्राम्य विकास मंत्री राजेन्द्र प्रताप उर्फ मोती सिंह ने कहा कि काश्मीर में आतंकवाद को जड़ से मिटाने के लिए भारतीय जनता पार्टी बेहद गंभीर है,इसी कारण वहा पर समर्थन वापसी कर राष्ट्रपति शासन के माध्यम से शांति बहाल करने का प्रयास जारी है।उन्होंने कहा कि आज का दिन उन वीर शहीदों को याद कर उन्हें सच्ची श्रद्धांजलि देने का है जिन्होंने देश की सुरक्षा व् अखंडता के लिए अपने प्राण न्यौछावर कर दिए।शहीद नीलेश की पत्नी का गोंडा से स्थान्तरण न होने पर परिजनों से मंत्री जी ने खेद जताते हुए शीघ्र ही स्थान्तरण कराने का वादा किया है।

बी एस एफ उपनिरीक्षक शहीद महेन्द्र यादव के पिता राम शब्द यादव ने कहा प्रदेश सरकार व् स्थानीय जिला प्रशासन ने उससे किया वादा तो नहीं निभाया,लेकिन केंद्र सरकार ने उनके दूसरे बेटे सुरेन्द्र यादव को नौकरी देकर अपना वादा निभाने का कार्य किया है,नियुक्ति पत्र मिल गया है,5 अक्टूबर को बी एस ऍफ़ के सिपाही पद पर उनका दूसरा पुत्र ज्वाइन करेगा। बेटे की शहादत के बाद भी दूसरे बेटे को भी बी एस एफ में भेजे जाने पर पिता राम शब्द यादव गर्व से भावुक हो उठे, उन्होंने कहा कि देश की सेवा के लिए वह अपने अन्य तीन पुत्रो को भी सेना में भेजे जाने की इच्छा व्यक्त करते है। वही चार माह पूर्व अखंडनगर के शहीद नीलेश सिंह की शिक्षिका पत्नी अर्चना सिंह का स्थान्तरण न होने पर प्रदेश सरकार पर शहीद के पिता ने आक्रोश व्यक्त किया।

Tags:    
Share it
Top