Home > राज्य > उत्तर प्रदेश > उन्नाव > उन्नाव रेप पीड़िता ने होश में आते ही फोन पर रिश्तेदार को बताई सच्चाई, कैसे ट्रक ने कार को मारी थी टक्कर?

उन्नाव रेप पीड़िता ने होश में आते ही फोन पर रिश्तेदार को बताई सच्चाई, कैसे ट्रक ने कार को मारी थी टक्कर?

हालांकि पीड़िता की स्थिति अभी भी सही नहीं है। वकील की भी हालत गंभीर है और उनका भी एम्स में इलाज चल रहा है।

 Special Coverage News |  19 Aug 2019 1:00 PM GMT  |  दिल्ली

उन्नाव रेप पीड़िता ने होश में आते ही फोन पर रिश्तेदार को बताई सच्चाई, कैसे ट्रक ने कार को मारी थी टक्कर?

उन्नाव रेप पीड़िता के एक्सीडेंट मामले में सुप्रीम कोर्ट ने जांच के लिए सीबीआई को और दो सप्ताह का समय का समय दिया है। सुप्रीम कोर्ट ने आज (19 अगस्त) को मामले पर सुनवाई करते हुये ये फैसला सुनाया है। सुप्रीम कोर्ट ने उत्तर प्रदेश सरकार को सड़क हादसे में घायल हुए वकील को पांच लाख रुपए देने को कहा है। इसी बीच एक और खबर सामने आ रही है कि उन्नाव रेप पीड़िता ने 28 जुलाई 2019 को कार-ट्रक की टक्कर के बारे में अपने रिश्तेदार से टेलीफोन पर बात कर बताया है। नई दिल्ली एम्स में इलाज के लिये भर्ती पीड़िता ने अपने एक रिश्तेदार को बताया है कि बिल्कुल सामने से आ रही ट्रक ने उसकी कार को धक्का मारा था। हालांकि पीड़िता की स्थिति अभी भी सही नहीं है। वकील की भी हालत गंभीर है और उनका भी एम्स में इलाज चल रहा है। इस हादसे में पीड़िता के चाची और मौसी की मौत हो गई थी। पीड़िता की मौसी मामले की गवाह थी।

नवभारत टाइम्स के मुताबिक, इम्स ऑफ इंडिया से फोन पर बातचीत में रिश्चतेदार ने यह जानकारी दी है। पीड़िता ने रिश्तेदार को बताया कि कार चला रहे उनके वकील ने रिवर्स गियर लेकर ट्रक के रास्ते में न आने की पूरी कोशिश की लेकिन ट्रक चालक ने इसके बावजूद उनकी कार को रौंद डाला।

रिश्तेदार के मुताबिक उन्होंने रेप पीड़िता से पूछा था कि आखिर उस दिन हुआ क्या था। तो पीड़िता ने कहा, उसने कहा कि ट्रक को इस तरह से आते हुए देखकर कार में बैठे हम सभी डर गये थे। हमने अलार्म भी बजाया था, जब हमें महसूस हुआ कि ट्रक को जिस तरह से चलाया जा रहा था उसमें कुछ असामान्य है।

पीड़िता की हालत फिलहाल नाजुक है। होश में आने के बाद उन्होंने अपने रिश्तेदार से ये बात बताई थी। हालांकि सीबीआई ने कोर्ट में यही कहा है कि पीड़िता की गवाही अबी दर्ज नहीं की गई है।

रिश्तेदार का दावा है कि पीड़िता ने उनसे यह बात अकेले में बताई है। पीड़िता के रिश्तेदार का दावा है कि रेप के बाद सारे मामलों में वह उसके साथ हमेशा रहे हैं। ऐसे में पीड़िता से भरोसा करके ये बातें बताई है।

जानें क्या है पूरा मामला

उत्तर प्रदेश के रायबरेली में 28 जुलाई 2019 को कार-ट्रक की टक्कर में 19 साल की पीड़िता और उनके वकील गंभीर रूप से जख्मी हो गए थे। फिलहाल सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद वो दिल्ली के एम्स अस्पताल में भर्ती हैं। इस हादसे में पीड़िता के चाची और मौसी की मौत हो गई थी। पीड़िता की मौसी मामले की गवाह थी। रेप पीड़िता ने बीजेपी के निष्कासित विधायक कुलदीप सिंह सेंगर पर उनके साथ बलात्कार करने का आरोप लगाया है। घटना 2017 की है जब वह नाबालिग थी। जिसके बाद आरोपी विधायक को गिरफ्तार कर लिया गया था।

उन्नाव रेप पीड़िता एक्सीडेंट मामले में जांच के लिए सीबीआई ने 20 लोगों की एक टीम बनाई थी। इस मामले में सीबीआई ने मुख्य आरोपी बीजेपी से निष्कासित विधायक कुलदीप सिंह सेंगर को बनाया है।

(उन्नाव रेप पीड़िता के बयान की पुष्टि 'स्पेशल कवरेज न्यूज़' नहीं करता है।)

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Next Story
Share it
Top