Home > यूपी की जेलों में होगी गायों की होगी देखभाल, 12 जेलों से होगी शुरुआत

यूपी की जेलों में होगी गायों की होगी देखभाल, 12 जेलों से होगी शुरुआत

गृह एवं जेल विभाग और गोसेवा आयोग के बीच समझौते के बाद अंतिम रूप से यह फैसला लिया गया है

 Arun Mishra |  2018-02-09 04:34:43.0  |  दिल्ली

यूपी की जेलों में होगी गायों की होगी देखभाल, 12 जेलों से होगी शुरुआत

लखनऊ : उत्तरप्रदेश की जेलों में अब गायों की देखभाल होगी। जिसकी शुरुआत यूपी की 12 जेलों से होगी। यूपी की 12 जेलों में गो कल्याणकारी योजनाओं को बढ़ावा देते हुए गोशालाएं चलाई जाएंगी। गृह एवं जेल विभाग और गोसेवा आयोग के बीच समझौते के बाद अंतिम रूप से यह फैसला लिया गया है। दरअसल गोसेवा आयोग ने पहले पीएसी परिसर में गोशाला खोलने का विचार किया था लेकिन डीजीपी मुख्यालय की तरफ से मंजूरी न मिलने के चलते जेलों में गोशाला चलाने का निर्णय लिया गया।


इस व्यवस्था की पुष्टि करते हुए जेल विभाग के अडिशनल इंस्पेक्टर जनरल शरद ने कहा, 'जेलों में हमारे पास पर्याप्त स्थान होता है और ज्यादा लोग भी होते हैं, जो गायों की देखभाल कर सकते हैं। हमने तत्काल प्रभाव से इसके लिए अपनी मंजूरी दे दी है।' मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के गो कल्याण योजनाओं को लागू करने में गहरी रुचि लेने के चलते गो सेवा आयोग को भी अधिक महत्व दिया जा रहा है।

इससे प्रेरित होकर ही आयोग के चीफ पूर्व आईएएस अधिकारी राजीव गुप्ता ने इस प्रस्ताव के बारे में दो प्रमुख विभागों में पहल की थी। लखनऊ स्थित जवाहर भवन में 16 नवंबर को मीटिंग के बाद राजीव गुप्ता ने गृह एवं जेल विभाग के प्रमुख सचिव और डीजीपी को पत्र लिखकर गो कल्याणकारी योजनाओं को बढ़ावा देने के लिए पत्र लिखा था। हालांकि पीएसी कंपाउंड्स में गोशाला चलाने के प्रस्ताव को डीजीपी मुख्यालय ने खारिज कर दिया। इसके बाद 5 दिसंबर को राजीव गुप्ता ने दोबारा दोनों विभागों को पत्र लिखा।

Tags:    
Share it
Top