Home > राज्य > उत्तर प्रदेश > वाराणसी > पीएम मोदी ने वाराणसी को दी 500 करोड़ से ज्यादा की सौगात, पढ़ें- भाषण की मुख्य बातें

पीएम मोदी ने वाराणसी को दी 500 करोड़ से ज्यादा की सौगात, पढ़ें- भाषण की मुख्य बातें

दौरे के आखिरी दिन पीएम मोदी ने वाराणसी की जनता को 557.40 करोड़ रुपये की परियोजनाओं का तोहफा दिया?

 Arun Mishra |  2018-09-18 07:44:38.0  |  दिल्ली

पीएम मोदी ने वाराणसी को दी 500 करोड़ से ज्यादा की सौगात, पढ़ें- भाषण की मुख्य बातें

वाराणसी : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी दो दिनों के दौरे पर अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी में हैं। दौरे के आखिरी दिन पीएम मोदी ने वाराणसी की जनता को 557.40 करोड़ रुपये की परियोजनाओं का तोहफा दिया और इस मौके पर बनारस हिंदू विश्वविद्यालय में जनसभा को भी संबोधित किया।

पीएम मोदी ने जनसभा के दौरान कहा कि 4 साल पहले के वाराणसी और अब के वाराणसी में बहुत अंतर आ चुका है और इसे और आगे ले जाना है। बीएचयू वर्ल्ड नॉलेज सेंटर बनाया जाएगा। काशी की धरोहरों को संजोने का काम किया जा रहा है। काशी पूर्वी भारत का हेल्थ हब बन रहा है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बनारस दौरे के दूसरे दिन मंगलवार को बीएचयू के एंफीथिएटर मैदान में 557 करोड़ की विभिन्न योजनाओं का बटन दबाकर लोकार्पण और शिलान्यास किया। इसके बाद अपने सम्बोधन में मोदी ने कहा कि वाराणसी को पूर्वी भारत के गेट-वे के रूप में विकसित किया जाएगा। उन्होंने कहा कि हम चार सवा चार साल पहले काशीवासी बदलाव के इस संकल्प लेकर निकले थे। आज अंतर स्पष्ट दिखाई दे रहा है।


पीएम मोदी ने कहा कि हमने वो दिनभी देखें हैं, जब यहां की व्यवस्था भी यहां के झूलते तारों की तरह उलझी हुई थी। आज काशी में हर जगह परिवर्तन होता दिख रहा है। उन्होंने चार साल में कराए विकास कार्यों को गिनाते हुए कहा कि बनारस हिंदू विश्विविद्लय को 21वीं सदी का नॉलेज सेंटर बनाने की कई परियोजनाएं शुरू की गई है। यहां जो भी बदलाव लाने की कोशिश कर रहे है, उसमें काशी की परंपराओं-पौराणिकताओं को बचाते हुए किया जा रहा है।

पीएम मोदी ने कहा कि यह शहर ट्रांसपोर्ट और लॉजिस्टिक के बड़े हब के तौर पर उभरने वाला है। उन्होंने कहा कि बनारस में रिंग रोड की चर्चा हो रही थी, लेकिन काम फाइलों में दबा हुआ था। लेकिन यूपी की पहले की सरकार ने काम आगे नहीं बढ़ने दिया गया। उनको फिक्र सता रही थी कि यह काम हो गया तो मोदी की जय-जय हो जाएगी। यूपी में भाजपा की सरकार बनने के बाद यह काम फिर शुरू हुआ। इस रिंग रोड के निर्माण से सिर्फ काशी ही नहीं, आसपास के जिलों को भी लाभ मिलने वाला है।

Tags:    
Share it
Top