Top
Home > राज्य > पश्चिम बंगाल > कोलकाता > पश्चिम बंगाल में दो और अधिकारियों पर गिरी चुनाव आयोग की गाज

पश्चिम बंगाल में दो और अधिकारियों पर गिरी चुनाव आयोग की गाज

बंगाल में अमित शाह के रोड शो के दौरान हुई हिंसा के एक दिन बाद EC ने चुनाव प्रचार एक दिन पहले ही रोकने का फैसला किया.

 Special Coverage News |  16 May 2019 5:14 PM GMT  |  दिल्ली

पश्चिम बंगाल में दो और अधिकारियों पर गिरी चुनाव आयोग की गाज
x

पश्चिम बंगाल में बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह के रोड शो के दौरान हुई हिंसा के एक दिन बाद जहां बुधवार को एक अहम कदम उठाते हुए चुनाव आयोग ने पश्चिम बंगाल की नौ लोकसभा सीटों पर चुनाव प्रचार एक दिन पहले ही रोकने का फैसला किया और राज्य के मुख्य सचिव को हटाया गया। तो वहीं, इस फैसले के एक दिन बाद आयोग ने गुरूवार को एक और अहम फैसला लिया।

दो और अधिकारी पर चुनाव आयोग की गाज

गुरुवार को चुनाव आयोग की तरफ से पश्चिम बंगाल में दो और अधिकारी पर गाज गिरी है। चुनाव आयोग ने कहा- "डायमंड हार्बर लोकसभा सीट के एसडीपीओ मिथुन कुमार देव, और अम्हरेस्ट स्ट्रीट के ऑफिस इंचार्च कौशिक दास को तत्काल प्रभाव से उनके काम से हटाया जा रहा है। दोनों ही अधिकारियों को चुनाव से संबंधित कोई भी काम नहीं दिया जाएगा।"



अंतिम चरण में प. बंगाल की 9 सीटों पर होगा मतदान

गौरतलब है कि लोकसभा चुनाव के आखिरी चरण में 19 मई को देश के 8 राज्यों की जिन 59 सीटों पर चुनाव होना है। इनमें पश्चिम बंगाल की 9 लोकसभा सीटों पर भी मतदान होना है। ये सीटें हैं- जयनगर, दमदम, बारासात, बशीरहाट, डायमंड हार्बर, मथुरापुर, कोलकाता दक्षिण, कोलकाता उत्तर, जाधवपुर।

अमित शाह के रोड शो में भड़की थी हिंसा

लेकिन, बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह को कोलकाता रोड शो में मंगलवार को हुई हिंसा और विद्यासागर प्रतिमा तोड़फोड़ के बाद चुनाव आयोग ने बुधवार को बड़ा फैसला लियाा। चुनाव आयोग की तरफ से एक दिन पहले ही यानि गुरूवार को रात 10 बजे चुनाव प्रचार पर रोक लगाने का फैसला किया। इसके साथ ही, राज्य के गृह सचिव को हटाकर उनका कामकाज की जिम्मेदारी मुख्य सचिव को दी गई।

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर, Telegram पर फॉलो करे...
Next Story
Share it