Top
Begin typing your search...

सीएए पर ममता का रुख हुआ हमलावर, भाजपा पर लगाया बड़ा आरोप

सीएए पर ममता का रुख हुआ हमलावर, भाजपा पर लगाया बड़ा आरोप
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

पश्चिम बंगाल। नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के खिलाफ आज सिलीगुड़ी में आज पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी फिर सड़क पर उतरी और उन्होंने नागरिकता संशोधन कानून और राष्ट्रीय नागरिक पंजी के खिलाफ विरोध मार्च निकाला।

सिलीगुड़ा में ममता ने लोगों को संबोधित करते हुए कहा, 'मैं राष्ट्रीय नागरिक पंजी और नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ लड़ रही हूं। मेरे साथ जुड़े। सभी लोगों से अनुरोध करती हूं कि वह आगे आएं और हमारे लोकतंत्र को बचाएं। वह भारत के प्रधानमंत्री हैं लेकिन हमेशा पाकिस्तान के बारे में बात करते हैं। क्यों? हम भारतीय हैं और हम अपने राष्ट्रीय मुद्दों के बारे में निश्चित तौर पर चर्चा करेंगे।'

ममता बनर्जी ने कहा कि पाकिस्तान की चर्चा पाकिस्तान करे, हम हिंदुस्तान की चर्चा करेंगे, ये हमारी जन्मभूमि है. इतने सालों बाद फिर हमें अपनी नागरिकात साबित करनी पड़ेगी. गृह मंत्री कहते हैं कि हां देश में एनआरसी होगी और प्रधानमंत्री कहते है कि उन्हें इसकी जानकारी नहीं है.

ममता बनर्जी ने कहा कि हम पश्चिम बंगाल में एनपीआर की अनुमति नहीं दे रहे हैं. पहले हमने सोचा था कि यह जनगणना का हिस्सा था, लेकिन अब हमें पता चला है कि वे अन्य विवरण मांग रहे हैं. हमारा पता पाकिस्तान नहीं है. हम स्वतंत्र भारत के नागरिक हैं. हम उन्हें अपना अधिकार हड़पने का हक नहीं दे सकते हैं।

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा कि यूनिवर्सिटी के अंदर जाकर पीटा जाता है. यूपी में 23 आदमी को गोली मार दिया. उन्होंने कहा कि उससे कोई फर्क नहीं पड़ता है कि वो (बीजेपी) हमें कितना गाली देते हैं. एनआरसी को निरस्त किए जाने तक हम अपना विरोध जारी रखेंगे।



Sujeet Kumar Gupta
Next Story
Share it