Top
Home > राज्य > बिहार > बिहार विधानसभा चुनाव की तारीखों का ऐलान आज, चुनाव आयोग की 12.30 बजे प्रेस कॉन्फ्रेंस

बिहार विधानसभा चुनाव की तारीखों का ऐलान आज, चुनाव आयोग की 12.30 बजे प्रेस कॉन्फ्रेंस

कोरोना काल के बाद देश में बिहार विधाानसभा चुनाव के तौर पर पहला चुनाव हो रहा है।

 Arun Mishra |  25 Sep 2020 4:13 AM GMT

बिहार विधानसभा चुनाव की तारीखों का ऐलान आज, चुनाव आयोग की 12.30 बजे प्रेस कॉन्फ्रेंस
x

बिहार विधानसभा चुनाव 2020 की तारीखों का आज ऐलान हो सकता है। बिहार चुनाव के मद्देनजर आज चुनाव आयोग की नई दिल्ली में बैठक है। बैठक के बाद करीब 12.30 बजे प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान ही निर्वाचन आयोग बिहार विधानसभा चुनाव की तारीखों का ऐलान करेगा। चुनाव आयोग के आधिकारिक प्रवक्ता शेफाली शरण ने कहा कि चुनाव आयोग की प्रेस कॉन्फ्रेंस बिहार चुनाव को लेकर ही होगी। कोरोना काल के बाद देश में बिहार विधाानसभा चुनाव के तौर पर पहला चुनाव हो रहा है।

बिहार में 243 सदस्यीय विधानसभा के चुनाव के लिए मतदान अक्टूबर में होने की संभावना है। कोरोना दिशा-निर्देशों और सोशल डिस्टेसिंग के नियमों को ध्यान में रखते हुए इस बार बिहार विधानसभा चुनाव एक से अधिक चरण में कराए जाने की संभावना है। इससे पहले कोरोना की वजह से बिहार के कई राजनीतिक दलों ने चुनाव आयोग से इस साल चुनाव टालने की अपील की थी।

चुनाव आयोग कोरोना काल में बिहार में चुनाव कराने को लेकर पहले ही अपनी गाइडलाइन जारी कर चुका है। चुनाव आयोग के मुताबिक, आगामी बिहार विधानसभा चुनाव के दौरान इन गाइडलाइन्स का पालन सुनिश्चित करना होगा। चुनाव आयोग की तरफ से गाइडलाइन के मुताबिक, विधानसभा चुनाव के लिए जहां एक तरफ ऑनलाइन नामांकन भरने होंगे तो वहीं और भी कई नियमों का कड़ाई से पालन करना होगा।

चुनाव प्रचार के दौरान डोर-टू-डोर कैंपन में अधिकतम पांच लोगों की इजाजत होगी। रोड शो के दौरान एक काफिले में 10 की जगह पांच गाड़ियों की टुकड़ियां बनानी होंगी (सुरक्षा वाहनों को छोड़कर, यदि कोई हो)। वाहनों के काफिले के दो सेटों के बीच 100 मीटर के अंतराल की जगह आधा घंटे का अंतर होना चाहिए।

गृह मंत्रालय की तरफ से जारी कोविड-19 गाइडलाइन्स का पालन सुनिश्चित करते हुए रैली और सार्वजनिक सभाओं की इजाजत दी गई है। जिला चुनाव अधिकारी को सार्वजनिक सभाओं के लिए मैदान की एडवांस में प्रवेश और निकासी मार्ग के साथ पहचान करनी होगा। इन सभी मैदानों में जिला चुनाव अधिकारी की तरफ यहां शामिल होने आने वाले लोगों के लिए एडवांस में सोशल डिस्टेंसिंग मार्क करना होगा।

नोडल हेल्थ ऑफिसर को भी इसमें शामिल करना होगा ताकि यह सुनिश्चित हो पाए कि सभी जिलों में कोविड-19 से संबंधित गाइडलाइन्स का पालन किया जा रहा है। जिला चुनाव अधिकारी और डीएसपी को यह सुनिश्चित करना होगा कि राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण की तरफ से तय लोगों से उस सार्वजनिक सभी में शामिल न हो।

इसके साथ ही, चुनाव आयोग ने कोरोना संकट को ध्यान में रखते हुए चुनाव के दौरान कुछ खास सावधानियां बरतने को कहा है। गाइडलाइन्स में कहा गया है कि फेस मास्क, सैनिटाइजर, थर्मल स्कैनर, ग्लव्स, फेशियल पीपी किट्स का इस्तेमाल चुनाव प्रक्रिया के दौरान किया जाएगा और सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का भी पालन किया जाएगा।

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर, Telegram पर फॉलो करे...
Arun Mishra

Arun Mishra

Arun Mishra


Next Story
Share it