Top
Begin typing your search...

कोरोना का संदिग्ध मरीज बिहार के गया मिला, जांच के लिए भेजे गए सैंपल

चीन में जो कोरोना वायरस फैला है, वह नया वायरस है। उसका नाम '2019 नोवल कोरोना वायरस' है

कोरोना का संदिग्ध मरीज बिहार के गया मिला, जांच के लिए भेजे गए सैंपल
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

गया। चीन से शुरू हुआ कोरोना वायरस दुनिया के 28 देशों में फैल चुका है. इस वायरस की वजह से चीन में अबतक दो हजार से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है. इस घातक वायरस के खौफ से अब दुनिया के ताकतभर देश भी डरने लगे हैं। वही भारत के बिहार के गया में कोरोना वायरस का एक और संदिग्ध मरीज मिला है जिसे इलाज के लिए एएनएमसीएच स्थित आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कराया गया है।

गया के इस मरीज का ब्लड सैंपल जांच के लिए पटना भेजा जा रहा है. जानकारी के मुताबिक संदिग्ध मरीज 9 फरवरी को चाइना से भारत लौटा है वो कोलकाता एयरपोर्ट पर लैंड करने के बाद ट्रेन से घर पहुंचा था. तबियत बिगड़ने के बाद वो बुधवार को जेपीएन अस्पताल में इलाज के लिए आया था और इसी दौरान उसमे कोरोना वायरस का दिखने लगा. कोरोना के संदिग्ध मरीज की पहचान मानपुर के बाराडीह निवासी के तौर पर की गई है. संदिग्ध मरीज के अस्पताल में आने की पुष्टि सिविल सर्जन ब्रजेश सिंह ने भी की है.

इससे पहले भी बिहार के गया स्थित अनुग्रह नारायण मगध मेडिकल अस्पताल में बर्मा से आए कोरोना के संदिग्ध मरीज को भर्ती कराया गया है. इस संदिग्ध मरीज को अस्पताल के स्पेशल आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कराया गया है. ये मरीज उस समय सामने आया जब गया एयरपोर्ट पर आने वाले सभी विदेशी यात्रियों की जांच की जा रही थी. इसी दौरान बर्मा से आए 30 सदस्यीय टीम में से एक यात्री पर शक होने पर उसे जांच के लिए रोक लिया गया।

जांच के लिए RMRI भेजे गए सैंपल लक्षण पाए जाने पर उसे विस्तृत जांच के लिए तुरंत मगध मेडिकल कॉलेज अस्पताल में भर्ती करा दिया गया जबकि उसके सैंपल पटना स्थित आरएमआरआई (राजेंद्र मेमोरियल रिसर्च इंस्टीट्यूट) भेजे गये. डाक्टरों ने बताया है कि रिपोर्ट आने तक उक्त मरीज को आइसोलेशन वार्ड में ही रखा जाएगा. बता दें कि इससे पहले भी एक मरीज को संदिग्ध मानकर एएनएमसीए के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कराया गया था, हालांकि बाद में जांच के दौरान उसे निगेटिव पाया गया था।


Sujeet Kumar Gupta
Next Story
Share it