Top
Home > राज्य > बिहार > पटना > लॉकडाउन के दौरान दो बहनों का निकाह हुआ ऐसे!

लॉकडाउन के दौरान दो बहनों का निकाह हुआ ऐसे!

 Shiv Kumar Mishra |  26 March 2020 1:25 PM GMT  |  पटना

लॉकडाउन के दौरान दो बहनों का निकाह हुआ ऐसे!
x

एक ओर जहां कोरोना वायरस के चलते पूरे देश में लॉकडाउन किया गया है, लोग वायरस के डर से बाहर नहीं निकल रहे हैं. सरकार इससे निपटने के लिए हर संभव प्रयास कर रही है. वहीं कुछ खबरें और वाकये लोगों के चहरे पर मुस्कराहट भी ला रहे हैं. ऐसा ही एक मामला सामने आया है जहां सोशल डिस्टेंसिंग को ध्यान में रखते हुए ऑनलाइन शादी की गई है.

दरअसल, यह घटना बिहार के बेगूसराय की है. यहां दो सगी बहनों का ऑनलाइन निकाह कराया गया है. यह निकाह लोगों के बीच चर्चा का विषय बन गया है. यह बकायदा मौलवी की उपस्थिति में हुआ है. मौलवियों के द्वारा लैपटॉप पर वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए एक-एक कर दोनों लड़कों से निकाह की पूरी रस्में कराई गई हैं और निकाह कबूल कराई गई.

छोटी बलिया मिदहटोली निवासी मोहम्मद वली अहमद कुरैशी उर्फ छोटे की दो पुत्री नगमा परवीन एवं राहत परवीन की शादी 25 मार्च को तय थीं. लेकिन इसी बीच कोरोना वायरस के कारण 21 दिनों का लॉकडाउन हो गया है. लॉकडाउन को सपोर्ट करने और कोरोना वायरस को लेकर भीड़ नहीं जुटे इसको लेकर लड़का एवं लड़की पक्ष के द्वारा निर्णय लिया गया कि निकाह तो होगा लेकिन न तो बारात आएगी और न ही कोई तामझाम होगा.

निर्णय के तहत 25 मार्च की शाम मोहम्मद वली अहमद कुरैशी उर्फ छोटे की बड़ी पुत्री नगमा परवीन की शादी नालंदा जिला के शमशाद एवं दूसरी पुत्री राहत परवीन की शादी गया जिला के शाहनवाज आलम के साथ ऑनलाइन हुई. यह भी बताया जा रहा है कि शादी की लगभग तैयारी हो चुकी थी लेकिन लॉकडाउन को सपोर्ट करने तथा लोगों में जन जागरण के लिए न सिर्फ ऑनलाइन शादी करने का फैसला किया गया.

लड़की के पिता मोहम्मद वसी अहमद कुरैशी ने बताया कि तारीख पहले से तय थी, पूरी तैयारी भी कर ली गई थी. अंत में यह निर्णय लिया गया कि निकाह इस प्रकार से किया जाएगा. आसपास के लोग इस निकाह से काफी खुश नजर आ रहे हैं. लोगों का कहना है कि यह अपने आप में अलग है. बाकी लोग भी ऐसा करने के लिए प्रेरित होंगे.

बता दें कि भारत में कोरोना वायरस के कारण देश में लगाए गए लॉकडाउन के बीच सरकार ने राहत पैकेज का ऐलान किया है. देश में कोरोना के मामले लगातार बढ़ रहे हैं और सरकार ने तीन महीने तक राहत पहुंचाने की बात कही है.

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर, Telegram पर फॉलो करे...
Next Story
Share it