Top
Begin typing your search...

42 महीने की जेल काटकर रिहा हुए 'मुन्नाभाई MBBS'

42 महीने की जेल काटकर रिहा हुए मुन्नाभाई MBBS
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
मुंबई
बॉलीवुड के मशहूर अभि‍नेता संजय दत्त आर्म्स एक्ट मामले में अपनी सजा पूरी करने के बाद गुरुवार को पुणे की यरवदा जेल से रिहा हो गए हैं। वह मुंबई सीरियल धमकों में अवैध हथियार रखने के दोषी पाए गए थे। फिल्मों में सबका दिल जीतने वाले 'मुन्नाभाई' ने अपनी नेकदिली से जेल प्रशासन और कानून व्यवस्था का भी दिल जीता है, लिहाजा अदालत उन्हें सजा की मियाद (5 साल) से 8 महीने पहले ही रिहा कर रही है। जेल से वह सीधे मुंबई के लिए रवाना हुए हैं।





नीली कमीज में जेल से बाहर निकलने के बाद दत्त ने पीछे मुड़कर यरवदा जेल को सलाम किया। इसके बाद वह व्हाइट एसयूवी में बैठकर परिवार के साथ सीधे एयरपोर्ट के लिए रवाना हुए। एयरपोर्ट पहुंचकर संजय दत्त ने जेल से रिहाई पर खुशी जताई और पहली प्रतिक्रिया के तौर पर कहा, 'दोस्तों! आजादी की राह इतनी आसान नहीं है।










पुणे की यरवदा जेल से रिहा होने के बाद संजय दत्त करीब 11 बजे तक मुंबई पहुंचें। विशेष विमान से उनका परिवार पहले ही पुणे पहुंच चुका है। मुंबई पहुंचने के बाद दत्त और उनका परिवार सबसे पहले सिद्धिविनायक मंदिर जाकर बप्पा के दर्शन करेंगे। इसके बाद 'संजू बाबा' मरीन लाइन के बड़े कब्रिस्तान जाएंगे और मरहूम मां नरगिस की कब्र पर सिर झुकाएंगे। उसके बाद बांद्रा में अपने घर इम्पीरियल हाइट्स में संजय दत्त मीडिया से बात करेंगे।






जेल में कैदियों के लिए रेडियो जॉकी थे संजय दत्त
गौरतलब है कि 1993 मुंबई बम धमाकों के सिलसिले में संजय दत्त को 5 साल कैद की सजा हुई थी। हालांकि, सजा पूरी करने के 8 महीने पहले ही उनकी रिहाई रोकने को लेकर बॉम्बे हाईकोर्ट में जनहित याचिका भी दाखिल की गई, जिस पर सुनवाई होनी अभी बाकी है।


और भी... http://aajtak.intoday.in/story/sanjay-dutt-releases-from-jail-today-live-update-1-856312.html








Special News Coverage
Next Story
Share it