Top
Begin typing your search...

'दिलवाले' के बारें में वितरक ऐसा बोलेंगे, शाहरुख़ ने सपने में भी नहीं सोचा होगा !

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
ShahRukh Khan Dilwalw


बम्बईः अगले शुक्रवार को रिलीज हो रही शाहरुख खान की फिल्म दिलवाले पर फिल्म ट्रेड में दबाव बढ़ गया है। अगर सूत्रों की मानें तो जिन वितरकों ने फिल्म के लिए मोटी रकम चुकाई है। बो सभी निर्देशक संजय लीला भंसाली की फिल्म बाजीराव मस्तानी का ट्रेलर और गाने देखने के बाद घबराए हुए हैं।

वितरक शाहरुख खान से फिल्म की कीमत कम करने को कह रहे हैं। भंसाली की फिल्म भी 18 दिसंबर को रिलीज हो रही है। दिलवाले का निर्माण शाहरुख की कंपनी रेड चिलीज ने किया है। सूत्रों के मुताबिक वितरकों को चार से छह महीने पहले फिल्म के अधिकार बेचे गए थे और दो महीने पहले उन्हें हैदराबाद बुलाकर दिलवाले के रफ कट दिखाए गए थे। तब सब खुश थे।
385111-371103-dilwale-kajol-srk


शाहरुख की टीम को भरोसा था कि उनकी फिल्म का ट्रेलर देखकर भंसाली अपनी फिल्म की रिलीज आगे बढ़ा देंगे, लेकिन ऐसा नहीं हुआ। उल्टे जब भंसाली की फिल्म का ट्रेलर और गाने रिलीज हुए तो शाहरुख की फिल्म के वितरकों के हाथ-पैर फूलने लगे।

वितरकों की हालत खराब
अलग-अलग क्षेत्रों में फिल्म की अलग-अलग कीमत लगी है। सूत्रों की मानें तो राजस्थान में फिल्म आठ करोड़ रुपये में बिकी है जबकि दिल्ली-पंजाब सर्किट में 40 करोड़ रुपये में बिकी है। यहां वितरण अधिकार प्रतीक बिल्डर्स के पास हैं। बताया जाता है कि सभी वितरक अब दिलवाले की कीमत एक से पांच करोड़ रुपये तक कम करना चाहते हैं।

दिल्ली सर्किट में दिल्ली, उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड शामिल है। जबकि पंजाब सर्किट में पंजाब, चंडीगढ़, हिमाचल प्रदेश, हरियाणा और जम्मू-कश्मीर हैं। ट्रेड विशेषज्ञों के मुताबिक दिल्ली-पंजाब सर्किट में जब 80 करोड़ रुपये का कलेक्शन होगा, तभी वितरक के 40 करोड़ निकलेंगे और बाकी रकम सिनेमाघरों के मालिकों को मिलेगी।

ऐसी स्थिति में दिलवाले के वितरकों को मुनाफा तभी होगा जब फिल्म देश में कुल 240 से 250 करोड़ रुपये कमाएगी। अन्यथा वितरक पूंजी नहीं निकाल सकेंगे। अत: वे अब रिलीज से पहले कीमत कम कराने को कमर कसने लगे हैं। वे घाटे का जोखिम उठाने को तैयार नहीं हैं। हालांकि इन बातों का यह अर्थ नहीं है कि भंसाली की फिल्म टिकट खिड़की पर रिकॉर्ड तोड़ेगी। ट्रेड विशेषज्ञों के मुताबिक दोनों ही फिल्में एक-दूसरे का नुकसान करेंगी।
Special News Coverage
Next Story
Share it