Home > बर्थडे स्पेशल : बॉलीवुड 'ही-मैन' धर्मेंद्र की जिंदगी के अनछुए पहलू

बर्थडे स्पेशल : बॉलीवुड 'ही-मैन' धर्मेंद्र की जिंदगी के अनछुए पहलू

 Special News Coverage |  2015-12-08 06:53:26.0

Happy BirthDay Dharmendra

मुंबई : बॉलीवुड एक्टर धर्मेंद्र 80 साल के हो चुके हैं। 4 दिसंबर, 1935 को पंजाब में जन्मे धर्मेंद्र बॉलीवुड में ही-मैन के नाम से मशहूर हुए हैं। धर्मेंद्र जैसे अपनी फिल्मों में मस्त मौला नजर आते हैं असल जिंदगी में भी वह कुछ-कुछ वैसे ही हैं।

धर्मेंद्र भले ही छोटे से गांव में पैदा हुए, लेकिन उनके सपने काफी बड़े थे, बचपन से ही फिल्म एक्टर बनने का ख्वाब देखते थे। धर्मेंद्र फिल्म देखने के लिये कई मील पैदल चलकर शहर जाते थे। फिल्म अभिनेत्री सुरैय्या के इतने बड़े फैन थे कि उन्होंने फिल्म 'दिल्लगी' चालीस बार देख डाली थी। उन्होंने 60 के दशक में फिल्मफेयर मैग्जीन का टैलेंट हंट अवॉर्ड जीता और उसके बाद फिल्मों में किस्मत आजमाने मुंबई पहुंच गए।


इसी दौरान धर्मेंन्द्र की मुलाकात निर्माता-निर्देशक अर्जुन हिंगोरानी से हुई जिन्होंने धर्मेन्द्र की प्रतिभा को पहचान अपनी फिल्म -'दिल भी तेरा हम भी तेरेÓ में बतौर अभिनेता काम करने का मौका दिया, लेकिन फिल्म की असफलता से धर्मेन्द्र को गहरा धक्का लगा और उन्होंने यहां तक सोच लिया कि मुंबई में रहने से अच्छा है गांव लौट जाया जाए। बहरहाल, धर्मेन्द्र ने फिल्म इंडस्ट्री में अपनी पहचान बनाने के लिए संघर्ष जारी रखा। फिल्म 'दिल भी तेरा हम भी तेरे' की असफलता के बाद धर्मेंन्द्र ने चोटी की कई अभिनेत्रियों के साथ सुपरहिट फिल्में दीं।

उन्होंने माला सिन्हा के साथ 'अनपढ़', 'पूजा के फूल-', नूतन के साथ 'बंदिनी', मीना कुमारी के साथ 'काजल' जैसी कई सुपरहिट फिल्मों में काम किया। इन फिल्मों को दर्शकों ने पसंद तो किया, लेकिन कामयाबी का श्रेय बजाय धमेंद्र के फिल्म अभिनेत्रियों को दिया गया। वर्ष 1966 में प्रदर्शित फिल्म 'फूल और पत्थर' की सफलता के बाद सही मायनों में बतौर अभिनेता धर्मेन्द्र अपनी पहचान बनाने में सफल रहे।

दिलचस्प बात है आज के दौर में शर्ट उतारने की अभिनेताओं की परंपरा की नींव धर्मेंद्र ने ही इस फिल्म के जरिए रखी। फिल्म में दमदार अभिनय के कारण वह फिल्म फेयर के सर्वश्रेष्ठ अभिनेता पुरस्कार के लिए नामांकित भी किए गए।

वर्ष 1975 धर्मेन्द्र के सिने कैरियर का अहम पड़ाव साबित हुआ और उन्हें निर्देशक रमेश सिप्पी की फिल्म -'शोले-' में काम करने का मौका मिला। इस फिल्म में अपने अल्हड़ अंदाज से धर्मेन्द्र ने दर्शकों का भरपूर मनोरंजन किया। फिल्म में धर्मेन्द्र के संवाद दर्शकों की जुबान पर चढ़ गए। खास तौर पर शराब के नशे में धुत धर्मेंद्र की पानी की टंकी पर चढ़कर -'कूद जाऊंगा फांद जाऊंगा-' की संवाद अदायगी काफी चर्चित हुई।

70 के दशक में हुए एक सर्वेक्षण के दौरान धर्मेन्द्र को विश्व के सबसे हैंडसम व्यक्तिव में शामिल किया गया। धर्मेन्द्र के प्रभावी व्यक्तिव के कायल अभिनय सम्राट दिलीप कुमार भी हैं। दिलीप कुमार ने धर्मेन्द्र की तारीफ करते हुए कहा था जब कभी मैं खुदा के दर पर जाऊंगा मैं बस यही कहूंगा मुझे आपसे केवल एक शिकायत है 'आपने मुझे धर्मेन्द्र जैसा हैंडसम क्यों नहीं बनाया।'

धर्मेन्द्र को फिल्मों में उल्लेखनीय योगदान के लिए वर्ष 1997 में फिल्मफेयर के लाइफटाइम एचीवमेंट अवार्ड से सम्मानित किया गया तो उनकी आंखों में आंसू आ गए और उन्होंने कहा, मैंने अपने करियर में सैकड़ों हिट फिल्में दी हैं, लेकिन मुझे अधिकतर अवार्ड के लायक नहीं समझा गया। आखिरकार मुझे अब अवॉर्ड दिया जा रहा है। मैं खुश हूं। अपने पुत्र सनी देओल को लांच करने के लिए धर्मेन्द्र ने 1983 में 'बेताब' जबकि वर्ष 1995 में दूसरे पुत्र बॉबी देओल को लांच करने के लिये वर्ष 1995 में बरसात का निर्माण किया।


परिवार : धर्मेंद्र की दो पत्नी, 2 बेटे और 4 बेटियां हैं
धर्मेंद्र के परिवार के ज्यादातर सदस्य तो फिल्म इंडस्ट्री से सीधे जुड़े रहे, लेकिन उनकी पहली पत्नी और 3 बेटियां (विजेता, अजेता, अहाना) कभी फिल्मों में नहीं आईं। धर्मेंद्र बॉलीवुड के संभवत: ऐसे पहले स्टार हैं जिनके दो अलग-अलग परिवार हैं। दिलचस्प बात यह है कि वह दोनों के ही करीब हैं। हालांकि, आज भी जब धर्मेंद्र की वाइफ का नाम आता है तो हमें हेमा मालिनी याद आती हैं। वैसे धर्मेंद्र, हेमा से शादी करने से पहले प्रकाश कौर से शादी कर चुके थे। इस शादी से धर्मेंद्र के चार बच्चे हुए, जिनके नाम सनी, बॉबी, विजेता और लल्ली (अजेता) हैं।

जब धर्मेंद्र और हेमा-मालिनी की शादी हुई, उस समय हेमा मालिनी हिंदी फिल्मों की नंबर-वन हीरोइन थीं। धर्मेंद्र और हेमा मालिनी ने शादी से पहले एक दर्जन से भी ज्यादा फिल्मों में साथ काम किया। धर्मेंद्र पहले से ही विवाहित थे, लेकिन वह ड्रीमगर्ल के लिए सारे बंधन तोड़कर आगे बढ़ गए। उन्होंने धर्म परिवर्तन कर हेमा से शादी की। वैसे, यह वह दौर था जब धर्मेंद्र की बेटी की भी शादी लायक हो चुकी थीं और बड़े बेटे सनी देओल फिल्मों में आने की तैयारी कर रहे थे। बावजूद इसके उन्होंने 2 मई, 1980 को हेमा से शादी रचाई। हेमा मालिनी और धर्मेंद्र की दो बेटियां हैं, जिनका नाम ईशा और अहाना है।


Tags:    
Share it
Top