Top
Home > Archived > अदनान सामी बोले- असहिष्णुता भारत में होती तो नहीं मांगता नागरिकता

अदनान सामी बोले- 'असहिष्णुता' भारत में होती तो नहीं मांगता नागरिकता

 Special News Coverage |  12 Dec 2015 12:30 PM GMT

Adnan Sami on intolerance

मुंबई : देश में असहिष्णुता को लेकर छिड़ी बहस के बीच जाने-माने पाकिस्तानी गायक अदनान सामी ने कहा कि भारत में उन्हें ऐसा कुछ नजर नहीं आता है।

दरअसल, मशहूर टीवी चैनल एजेंडा 'आज तक' के कार्यक्रम में अदनान ने कहा कि भारत में अगर असहिष्णुता होती तो वे यहां की नागरिकता की मांग नहीं करते। अदनान ने कहा कि उन्हें भारत से प्यार है और इसी कारण वे यहीं रहना चाहते हैं। सामी से जब पूछा गया कि भारत की नागरिकता के लिए आवेदन करते समय उनके दिल में क्या ख्याल था, तो उनका जवाब था, 'प्यार'।


सामी ने मुंबई में शिव सेना के विरोध के बाद पाकिस्तानी गजल गायक गुलाम अली के कार्यक्रम को रद्द किए जाने को लेकर भी अपनी राय रखी। उन्होंने कहा, 'हां, उनका कार्यक्रम होना चाहिए था। हर किसी को परफॉर्म करना चाहिए। संगीत का रंग या धर्म नहीं होता है। अगर मैं कोई गाना सुनता हूं तो मैं उसके गायक के देश या धर्म के बारे में नहीं सोचता। दूसरी भाषा से भी फर्क नहीं पड़ता है, क्योंकि मैं संगीत से प्यार करता हूं।'

गौर हो कि बॉलीवुड अभिनेता आमिर खान ने पिछले महीने एक समारोह में कहा था कि उनकी पत्नी को देश में बढ़ती असहिष्णुता के बीच बेटे की सुरक्षा की चिंता सता रही है और एक दिन उन्होंने आमिर से पूछा कि क्या ऐसे माहौल में उन्हें देश छोड़ देना चाहिए। आमिर की इस टिप्पणी के बाद असहिष्णुता के मुद्दे पर सड़क से संसद तक चर्चा हुई।

Tags:    
Next Story
Share it