Home > मनोरंजन > बॉलीवुड > Happy Birthday Amrish Puri : आए थे हीरो बनने पर पर विलेन बनकर बनाई अलग पहचान, जानें 10 बातें

Happy Birthday Amrish Puri : आए थे हीरो बनने पर पर विलेन बनकर बनाई अलग पहचान, जानें 10 बातें

अमरीश पुरी अपने पहले स्क्रीन टेस्ट में फेल हो गए थे?

 Special Coverage News |  22 Jun 2019 6:55 AM GMT  |  दिल्ली

Happy Birthday Amrish Puri : आए थे हीरो बनने पर पर विलेन बनकर बनाई अलग पहचान, जानें 10 बातें

नई दिल्ली : बॉलीवुड के सुपरस्टार एक्टर अमरीश पुरी (Amrish Puri) का आज जन्मदिन है। बॉलीवुड के कई विलेन ऐसे हुए जिनकी एक्टिंग इतनी शानदार होती थी कि कई बार वे हीरो पर भी भारी पड़ जाते थे। इन्हीं डरवाने और खतरनाक विलेन की लिस्ट में शामिल हैं आमरीश पुरी का भी नाम। 22 जून 1932 को लाहौर, पंजाब (अब पाकिस्तान) में जन्में अमरीश पुरी साहब फिल्मों में हीरो बनने आए थे, लेकिन असली पहचान उन्हें विलेन के किरदारों से ही मिली।

बता दें कि, 12 जनवरी, 2005 को ब्रेन हेमरेज के चलते मुंबई में उनका निधन हो गया था। अपने पूरे करियर में (1967-2005) तकरीबन 400 फिल्मों में काम किया था। उनकी आखिरी फिल्म 'कच्ची सड़क' थी, जो उनके निधन से करीब डेढ़ साल बाद 2006 में रिलीज हुई थी।

अपने फिल्मी करियर में अमरीश पुरी ने कई ऐसे किरदार निभाए जो आज भी याद किए जाते हैं। अमरीश पुरी बॉलीवुड के एक ऐसे विलेन थे जो हीरो पर भारी पड़ जाते थे। उन्होंने 'मिस्टर इंडिया', 'नगीना', 'नायक', 'दामिनी' और 'कोयला' जैसी कई फिल्मों में अपनी एक्टिंग लाखों दिलों में खास जगह बनाई। 'मिस्टर इंडिया' का मोगैम्बो हो या 'नगीना' का भैरोंनाथ, 'अजूबा' का 'वजीर-ए-आला' हो या फिर 'तहलका' का जनरल डोंग' उनके कई किरदारों की आज भी चर्चा होती है।

अमरीश पुरी ने ना सिर्फ बॉलीवुड बल्कि हॉलीवुड फिल्म में भी काम किया है। अमरीश पुरी हॉलीवुड की फिल्म Indiana Jones and the Temple of Doom में भी काम किया था। इस फिल्म में उन्होंने अपने अभिनय से खूब सुर्खियां बटोरी थीं।

अमरीश पुरी (Amrish Puri) के बारे में जानें 10 खास बातेंः

- अमरीश पुरी एक्टर सिंगर के.एल. सहगल के कजिन थे.

- अमरीश पुरी अपने पहले स्क्रीन टेस्ट में फेल हो गए थे, और उन्हें एम्प्लॉइज स्टेट इंश्योरेंस कॉर्पोरेशन मिनिस्ट्री ऑफ लेबर ऐंड एंप्लॉयमेंट में नौकरी करने लगे.

- अमरीश पुरी ने नौकरी के साथ ही पृथ्वी थिएटर में नाटक करने शुरू कर दिए थे. वे रंगमंच की दुनिया का दिग्गज नाम बन गए और उन्हें 1979 में संगीत नाटक एकेडमी के पुरस्कार से भी नवाजा गया.

- रंगमंच की इस पहचान ने उन्हें पहले टीवी की दुनिया और फिर सिनेमा जगत में आगे बढ़ने का मौका दिया. लगभग 40 साल की उम्र में उनका फिल्मी करियर परवान चढ़ सका.

- अमरीश पुरी को 1980 की सुपरहिट फिल्म 'हम पांच' से पहचान मिली जिसमें उन्हें विलेन का रोल निभाया था.

- 1982 में अमरीश पुरी ने सुभाष घई की 'विधाता' में विलेन का रोल निभाया था और यह काफी पॉपुलर भी हुआ था.

- अमरीश पुरी का 12 जनवरी 2005 में कैंसर की वजह से निधन हो गया.

- अमरीश पुरी ने लगभग 400 फिल्मों में काम किया था.

- अमरीश पुरी ने हॉलीवुड की फिल्मों को भी खूब पसंद किया जाता है. वे रिचर्ड एटनबरो की फिल्म 'गांधी (1982)' में भी काम कर चुके हैं.

- अमरीश पुरी ने स्टीवन स्पिलबर्ग की फिल्म 'इंडियाना जोन्स ऐंड द टेंपल ऑफ डूम (1984)' में मौला राम का किरदार निभाया था और इसके लिए उन्होंने अपना सिर मुंड़वाया था.

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Share it
Top