Home > नोटिस: एक्टर नवाजुद्दीन को माफी के लिए 24 घंटे का वक्त दिया, 2 Cr हर्जाना मांगा

नोटिस: एक्टर नवाजुद्दीन को माफी के लिए 24 घंटे का वक्त दिया, 2 Cr हर्जाना मांगा

सुनीता ने नवाज पर उनकी किताब 'An Ordinary Life' में उनका नाम घसीटने के लिए यह नोटिस भेजा है

 Ekta singh |  2017-11-09 09:16:55.0  |  नई दिल्ली

नोटिस: एक्टर नवाजुद्दीन को माफी के लिए 24 घंटे का वक्त दिया, 2 Cr हर्जाना मांगा

नई दिल्ली: नवाजुद्दीन की बायोग्राफी रिलीज होने के बाद फिर उसे वापस लेने के बाद भी उनकी मुश्किलें कम नहीं हुई हैं. बता दें, थिएटर और टीवी एक्ट्रेस सुनीता राजवार ने नवाजुद्दीन सिद्दीकी को लीगल नोटिस भेज दिया है.

सुनीता ने नवाज पर उनकी किताब 'An Ordinary Life' में उनका नाम घसीटने के लिए यह नोटिस भेजा है. नोटिस में सुनीता ने नवाज से 24 घंटे के भीतर माफी की मांग की, साथ ही 2 करोड़ रुपये हर्जाना भी मांगा है.

गर्लफ्रेंड ने अपनी किताब 'An Ordinary Life' टीवी एक्ट्रेस सुनीता के लिए लिखा है कि वो मेरी पहली गर्लफ्रेंड थीं. मैं सफल नहीं था इसलिए उन्होंने मुझे छोड़ दिया था. इसके बाद मुझे आत्महत्या के ख्याल आते थे.

सुनीता का आरोप है कि नवाज ने किताब में उनकी गलत छवि पेश की है और उनके बारे में झूठ बोला है. उन्होंने मुझे किताब में विलेन की तरह दिखाया है. मेरे घरवालों और ससुराल वालों को इस अफेयर के बारे में नहीं पता था.

उनके खुलासे के बाद मेरी निजी जिंदगी डिस्टर्ब हो गई है. सुनीता ने नवाज के साथ पत्रकार रितुपर्णा चटर्जी (जिन्होंने नवाज की किताब लिखने में उनकी मदद की है) और किताब के पब्लिशर को भी नोटिस भेजा है.

किताब में पहले प्यार का खुलासा करते हुए नवाज ने सुनीता राजवार का नाम लिया था. उन्होंने दावा किया कि बेरोजगारी की वजह से जब उनका ब्रेकअप हुआ, उस वक्त वो सुसाइड तक की सोचने लगे थे.

इस पर सुनीता ने फेसबुक पर पोस्ट लिखकर बताया कि नवाज ने कई झूठ बोले हैं. नवाज की छोड़ने की असली वजह वह नहीं थी, जो उन्होंने बताई. सुनीता ने लिखा है कि नवाज हमारी पर्सनल, इंटिमेट बातें अपने दोस्तों में बताते थे और हंसते थे. इसलिए मैंने उन्हें छोड़ दिया था.

आपको बता दें, अपनी किताब पर लगातार हो रहे विवाद के कारण नवाजुद्दीन ने अपनी किताब को कुछ दिन पहले वापस ले लिया था. उन्होंने सोशल मीडिया पर एक पोस्ट करते हुए लिखा था, "मैं उन सब लोगों से माफी मांग रहा हूं, जिनकी भावनाएं मेरे किताब 'मेमॉइर' की वजह से आहत हुई हैं. उनके प्रति मैं खेद जताता हूं और अपनी किताब को वापस लेता हूं."


Tags:    
Share it
Top