Home > मनोरंजन > बॉलीवुड > #MeToo: अब संस्कारी बाबू आलोक नाथ पर महिला प्रोड्यूसर ने लगाया यौन शोषण का आरोप!

#MeToo: अब संस्कारी बाबू आलोक नाथ पर महिला प्रोड्यूसर ने लगाया यौन शोषण का आरोप!

राइटर और फिल्ममेकर विंटा नंदा ने आलोक नाथ के खिलाफ यौन शोषण का आरोप लगाया है.

 Special Coverage News |  9 Oct 2018 2:54 AM GMT  |  दिल्ली

#MeToo: अब संस्कारी बाबू आलोक नाथ पर महिला प्रोड्यूसर ने लगाया यौन शोषण का आरोप!

मुंबई : मीटू का असर अब बॉलीवुड में भी नजर आने लगा है. तनुश्री दत्ता मामले के बाद अब तमाम महिलाओं ने अपने खिलाफ हुए शोषण पर खुलकर आवाज उठानी शुरू कर दी है. नाना पाटेकर, कैलाश खेर और विकास बहल पर लगे यौन शोषण और हिंसा के आरोपों के बाद अब राइटर और फिल्ममेकर विंटा नंदा ने आलोक नाथ के खिलाफ यौन शोषण का आरोप लगाया है.

विंटा ने एक लंबी-चौड़ी फेसबुक पोस्ट के जरिए पूरे मामले को खुलकर पब्लिक में सामने रखा है. विंटा ने बिना आलोक नाथ का नाम लिए लिखा, 'उन्होंने मेरे साथ शारीरिक दुर्व्यवहार किया, जब मैं साल 1994 के मशहूर शो 'तारा' के लिए काम कर रही थी.' इसके बाद आलोक नाथ का इस पर बयान भी सामने आ गया है.


विंटा ने ना सिर्फ अपनी बात लिखी बल्कि उस शो के दौरान शो की लीड एक्ट्रेस नवनीत निशान के साथ हुई घटना का भी जिक्र किया. जहां एक सीन के दौरान आलोक पहले तो सेट पर शराब पीकर आए और उसके बाद शॉट के दौरान नवनीत पर गिर पड़े, जिसके बाद नवनीत ने उन्हें थप्पड़ मारा. वैसे तो विंटा ने इस फेसबुक पोस्ट में आलोकनाथ का नाम सीधे-सीधे नहीं लिखा है, लेकिन जिस शो और जिस तरह से 'संस्कारी' शब्द का इस्तेमाल विंटा ने किया है उससे ये साफ़ जाहिर है की वो आलोकनाथ के ही बारे में बात कर रही हैं.

लंबी चौड़ी फेसबुक पोस्ट में विंटा ने लिखा, "उनकी पत्नी मेरी अच्छी दोस्त थीं. हमारा एक दूसरे के घर में आना-जाना था, हमारे दोस्त भी एक ही थे, ज्यादातर थिएटर से. मैं उन दिनों टीवी के नंबर वन शो 'तारा' को लिख रही थी और इसका प्रोडक्शन कर रही थी. वह मेरी लीड गर्ल के पीछे थे. लड़की की उनमें कोई दिलचस्पी नहीं थी."

आलोक नाथ की सफाई

इस पूरे मामले पर जब 'आजतक' की टीम ने आलोक नाथ से ख़ास बातचीत की, तो उनका कहना था कि आज के जमाने में अगर कोई महिला किसी पुरुष पर आरोप लगाती है तो पुरुष का इस पर कुछ भी कहना मायने नहीं रखता. मैं विंटा को अच्छे से जानता हूं. इस समय इस मामले पर मैं चुप ही रहना चाहूंगा. उन्हें अपने विचार रखने का हक़ है. समय आने पर सही बाते सामने आ जाएंगी. फिलहाल मैं इस बात को पचाने की कोशिश में लगा हूं. बाद में इस पर कमेंट करूंगा.

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Share it
Top