Home > विजय माल्या के किंगफिशर हाउस की किसी ने नहीं लगाई बोली

विजय माल्या के किंगफिशर हाउस की किसी ने नहीं लगाई बोली

 Special News Coverage |  2016-03-17 11:06:50.0

Kingfisher House


मुंबई : विजय माल्या की कंपनी किंगफिशर एयरलाइंस पर बकाया कर्ज की रिकवरी करने के लिए स्टेट बैंक ऑफ इंडिया की तरफ से आयोजित किंगफिशर हाउस की नीलामी में किसी ने बोली नहीं लगाई। एसबीआई ने इसके लिए ऑनलाइन नीलामी शुरू की थी, जिसके लिए कोई बोली नहीं मिली।

माल्या के किंगफिशर हाउस की ई-नीलामी की गई। बैंक ने इस प्रॉपर्टी का बेस प्राइस 150 करोड़ रुपये रखा था। मुंबई के विले पार्ले स्थित इस 17,000 वर्ग फुट के बंगले की बोली एसबीआईकैप्स ट्रस्टी की ओर से आयोजित की गई। गौर हो कि विजय माल्‍या पर बैंकों का करीब 9 हजार करोड़ रुपये का कर्ज है।


इस संपत्ति पर फरवरी 2015 में भारतीय स्टेट बैंक के नेतृत्व में 17 बैंकों ने कब्जा किया था ताकि विमानन कंपनी को दिए गए 9000 करोड़ रपये के ऋण की वसूली हो सके। भारी-भरकम नुकसान और देनदारी के बोझ के कारण विमानन कंपनी को 2012 में बंद कर दिय गया था। ऋणदाताओं की ओर से 9,000 करोड़ रुपये से अधिक की ऋण वसूली की कोशिश तेज होने के बीच विमानन कंपनी के संस्थापक और मुख्य प्रवर्तक माल्या ने इस महीने देश छोड़ दिया है। हाल में प्रवर्तन निदेशालय ने पिछले साल सीबीआई द्वारा दायर प्राथमिकी के आधार पर माल्या और अन्य के खिलाफ मनी लांडरिंग का मामला दर्ज किया है।

डूब चुकी किंगफिशर एयरलाइंस पर स्टेट बैंक ऑफ इंडिया का सबसे अधिक 1,600 करोड़ रुपये का कर्ज बकाया है। इसके अलावा पंजाब नैशनल बैंक और आईडीबीआई बैंक की 800-800 करोड़ रुपये की राशि है। बैंक ऑफ इंडिया के 650 करोड़, बैंक ऑफ बड़ौदा के 550 करोड़, सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया के 410 करोड़ और यूको बैंक के 320 करोड़ रुपये विजय माल्या पर बकाया हैं। इसके अलावा भी कई अन्य बैंकों का सैकड़ों करोड़ रुपये का कर्ज फंसा हुआ है।

Tags:    
Share it
Top