Top
Begin typing your search...

बिना सब्सिडी वाला गैस सिलेंडर हुआ 11.50 रुपये महंगा, जानें- क्यों बढ़ाई कीमत?

घरेलू रसोई गैस के बिना सब्सिडी वाले सिलेंडर का दाम सोमवार से साढ़े 11 रुपये बढ़ गया

बिना सब्सिडी वाला गैस सिलेंडर हुआ 11.50 रुपये महंगा, जानें- क्यों बढ़ाई कीमत?
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

घरेलू रसोई गैस के बिना सब्सिडी वाले सिलेंडर का दाम सोमवार से साढ़े 11 रुपये बढ़ गया। विमान ईंधन भी 56.6 प्रतिशत महंगा हो गया। हालांकि पेट्रोल और डीजल के दाम लगातार 78वें दिन भी स्थिर रहे। सार्वजनिक क्षेत्र की ईंधन कंपनियों इस संबंध में अधिसूचना जारी की।

वैश्विक संकेतों के चलते दिल्ली में विमान ईंधन (एटीएफ) का दाम 56.5 प्रतिशत या 12,126.75 रुपये प्रति किलोलीटर बढ़कर 33,575.37 रुपये प्रति किलोलीटर हो गया। अधिकारियों ने कहा कि एटीएफ की कीमत बढ़ाना जरूरी हो गया था, क्योंकि अंतर्राष्ट्रीय बाजार में मानक कीमतें अपने 2 दशक के निचले स्तर से बाहर आ गयी हैं। इसी तरह बिना सब्सिडी वाले रसोई गैस के 14.2 किलोग्राम के सिलेंडर का दाम 11.50 रुपये बढ़ा कर 593 रुपये प्रति सिलेंडर कर दिया गया है।

भारत ईंधन के मामले में अमेरिका और चीन के बाद दुनिया में तीसरा सबसे बड़ा आयातक देश है। लेकिन, भारत को अंतरराष्ट्रीय तेल बाजार में गिरी कीमतों का लाभ नहीं मिल पा रहा है क्योंकि दो महीने के दौरान कच्चे तेल की आयात लागत रुपये के हिसाब से 69 फीसदी बढ़ी है। इसी वजह से सरकारी तेल कंपनियों को रसोई गैस में 1 फरवरी के बाद पहली बार 11.50 रुपये प्रति सिलिंडर बढ़ाना पड़ा है।

सरकार की तरफ से संचालित इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन (आईओसी) भारत का सबसे बड़ा खुदरा विक्रेता है, जिसने रविवार की आधी रात एक बयान जारी कर एलपीजी गैस के दाम 1 जून से बढ़ाने की घोषणा की।

इसमें कहा गया कि "जून 2020 में एलपीजी की अंतरराष्ट्रीय कीमतें बढ़ गई हैं। अंतरराष्ट्रीय बाजार में बढ़ी कीमतों के चलते दिल्ली में एलपीजी का खुदरा दाम प्रति सिलिंडर 11.50 रुपये प्रति सिलिंडर बढ़ाया जाएगा।" इसके बाद अब दिल्ली में 14.2 किलोग्राम गैस के सिलिंडर की कीमत 593 रुपये हो गई है। अन्य शहरों में इसकी कीमत स्थानीय चार्ज के हिसाब से तय होगी।

Arun Mishra

About author
Sub-Editor of Special Coverage News
Next Story
Share it