Top
Home > व्यवसाय > कोरोना से लॉकडाउन के बीच SBI का बड़ा मरहम, अपने ग्राहकों को दिया ये तोहफा

कोरोना से लॉकडाउन के बीच SBI का बड़ा मरहम, अपने ग्राहकों को दिया ये तोहफा

SBI के इस ऐलान से ऐसे लोगों को बड़ी राहत मिलेगी?

 Arun Mishra |  28 March 2020 10:52 AM GMT  |  दिल्ली

कोरोना से लॉकडाउन के बीच SBI का बड़ा मरहम, अपने ग्राहकों को दिया ये तोहफा

नई दिल्ली : कोरोना के जानलेवा विषाण से मचे हाहाकार के बीच देश की सार्वजनिक क्षेत्र के सबसे बड़े बैंक SBI ने आमलोगों को बड़ी राहत दी है। RBI के बाद SBI ने अपने ग्राहकों को बड़ा तोहफा दिया है। SBI ने ऐलान किया है कि वो अपने ग्राहकों से अगले तीन महीने तक किसी तरह के लोन पर कोई EMI नहीं लोगा। SBI के इस ऐलान से ऐसे लोगों को बड़ी राहत मिलेगी, जिन्होंने एसबीआई से लोन लिया हुआ है और लॉकडउन की वजह से वो बैंक का लोन चुकाने में असमर्थ हैं।

SBI ने ऐलान है कि उसकी नई घटी दर बाहरी मानक दर से जुड़ी कर्ज दर (ईबीआर) और रेपो दर से जुड़ी कर्ज दर (आरएलएलआर) के तहत कर्ज लेने वाले ग्राहकों पर लागू होगी। बाहरी मानक दर से जुड़ी कर्ज दर को 7.80 फीसदी से घटाकर 7.05 फीसदी सालाना कर दिया गया है जबकि आरएलएलआर को 7.40 फीसदी से घटाकर 6.65 फीसदी पर ला दिया गया है।



SBI के चेयरमैन रजनीश कुमार ने कहा कि 'कर्जदारों के EMI की तीन किस्त को ऑटोमैटिकली टाल दिया गया है। इसके लिए ग्राहक को बैंक में अप्लाई करने की जरूरत नहीं है।साथ ही एसबीआई ने साफ किया हैकि क्रेडिट कार्ड पेमेंट पर फिलहाल कोई राहत नहीं है। एसबीआई चेयरमैन ने इसके साथ ही स्पष्ट किया कि 3 महीने तक ईएमआई पेमेंट नहीं देने की स्थिति में ग्रा​हकों के क्रेडिट स्कोर पर कोई असर नहीं पड़ेगा।

गौरतलब है कि शुक्रवार सुबह आरबीआई ने बैंकों से लोन की ईएमआई दे रहे लोगों को 3 महीने तक के राहत की सलाह दी थी। आरबीआई ने ये सलाह लॉकडाउन की वजह से दी है। हालांकि, आरबीआई ने इसे अनिवार्य नहीं किया है। इसके बाद एसबीआई पहला बैंक हे जिसने ग्राहकों को राहत दी है। अब अन्य सरकारी और निजी बैंकों पर भी ग्राहकों के लोन की ईएमआई को 3 महीने तक बढ़ाने का दबाव बढ़ गया है।

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Arun Mishra

Arun Mishra

Arun Mishra


Next Story
Share it