Top
Begin typing your search...

1 जनवरी से जरूरी नहीं FASTag, सरकार ने बढ़ाई डेडलाइन, जानें- क्या है नई तारीख

पहले देश के सभी राष्ट्रीय राजमार्गों से गुजरने पर टोल चुकाने के लिए 1 जनवरी 2021 से गाड़ियों में FASTag अनिवार्य करने का ऐलान किया गया था.

1 जनवरी से जरूरी नहीं FASTag, सरकार ने बढ़ाई डेडलाइन, जानें- क्या है नई तारीख
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली : FASTag को लेकर बड़ी राहत की खबर है. अब आप 15 फरवरी तक अपनी गाड़ियों में FASTag लगवा सकेंगे. NHAI ने लोगों को FASTag मिलने में आ रही दिक्कतों को देखते हुए ये फैसला लिया है. पहले देश के सभी राष्ट्रीय राजमार्गों से गुजरने पर टोल चुकाने के लिए 1 जनवरी 2021 से गाड़ियों में FASTag अनिवार्य करने का ऐलान किया गया था.

NHAI ने ऐलान किया था कि 1 जनवरी 2021 से देश के सभी NHAI टोल प्लाजा कैश की जगह FASTag लेन में तब्दील हो जाएंगे. अगर कोई भी बिना FASTag के टोल प्लाजा पर पहुंचा तो उसे दोगुना टोल चुकाना होगा. लेकिन अब लोगों को FASTag लेने और लगवाने के लिए डेढ़ महीने की मोहलत मिल गई है.

फिलहाल FASTag के जरिए टोल प्लाजा से कलेक्शन 75-80 परसेंट है. सड़क और परिवहन मंत्रालय ने NHAI को सुझाव दिया कि वो 100 परसेंट कैशलेस कलेक्शन के लिए सभी जरूरी मंजूरियां लेकर इसे 15 फरवरी से लागू करे.

FASTag दो तरह के होते हैं. एक होता है NHAI के टैग वाला और दूसरा होता है जो बैंकों से लिया गया हो. 1 दिसंबर 2017 के बाद से जो भी गाड़ियां खरीदी गई हैं, उनमें FASTag पहले से फिट होकर आता है. अगर आपने इसके पहले कार खरीदी है तो आपको FASTag अलग से खरीदना होगा.

इस ऐप के जरिए आप अपनी गाड़ी के लिए FASTag खरीद सकते हैं. इसके लिए आपको किसी KYC की जरूरत नहीं होती है. NHAI ने हाल ही में इसमें 'Check balance status' का नया फीचर भी डाला है. 'My FASTag App' एक बैंक न्यूट्रल ऐप है, यानी इसका किसी सरकार या निजी बैंके के साथ लिंक नहीं है. आप इसे UPI या नेट बैंकिंग के जरिए रीचार्ज कर सकते हैं.

आप FASTags को बैंकों से भी खरीदकर अपनी कार में चिपका सकते हैं और रीचार्ज कर सकते हैं. 22 बैंकों को इस काम के लिए जोड़ा गया है. ICICI Bank ने FASTags के लिए Google Pay के साथ करार किया है. यानी अगर आपके पास Google Pay है तो आप ICICI Bank से FASTags खरीद सकेंगे और रीचार्ज भी कर सकेंगे. इसके लिए आपको बैंक जाने या टोल प्लाजा जाने की जरूरत नहीं होगी.

इसके अलावा कई बैंक्स जैसे, Axis Bank, IDFC Bank, SBI, HDFC Bank, Karur Vysya Bank, EQUITAS Small Finance Bank, Kotak Mahindra Bank, Punjab National Bank, Bank of Baroda, Induslnd Bank, Yes Bank, से भी FASTags खरीदा जा सकता है.

बैंकों के अलावा आप FASTag ई-कॉमर्स वेबसाइट से ऑनलाइन खरीद सकते हैं. Amazon और Paytm भी FASTag सर्विसेज देती हैं. यहां भी सर्विसेज बैंक न्यूट्रल हैं और KYC की भी जरूरत नहीं होती है. आप UPI के जरिए आराम से रीचार्ज कर सकते हैं.

Arun Mishra

About author
Sub-Editor of Special Coverage News
Next Story
Share it