Top
Begin typing your search...

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण की मौजूदगी में हलवा सेरेमनी के साथ ही शुरू हुई बजट डॉक्‍यूमेंट्स की प्रिंटिंग

आप भी जानिए- क्‍या होती है हलवा सेरेमनी?

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण की मौजूदगी में हलवा सेरेमनी के साथ ही शुरू हुई बजट डॉक्‍यूमेंट्स की प्रिंटिंग
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

Budget 2019: वित्‍त मंत्री निर्मला सीतारमण 5 जुलाइ को आम बजट संसद में पेश करेंगी और आज यानी 22 जून को हलवा सेरेमनी के साथ ही बजट दस्‍तावेजों की प्रिंटिंग की शुरुआत हो गई है। यह परंपरा रही है कि बजट पेश करने से पहले सरकार द्वारा हलवा सेरेमनी का आयोजन किया जाता है। वित्त मंत्रालय के बेसमेंट में बजट के डॉक्यूमेंट्स की आधिकारिक छपाई हलवा सेरेमनी के साथ ही शुरू हो जाती है। ये हलवा वित्त मंत्री को ओर से लगभग 100 अधिकारियों और कर्मचारियों में बांटा जाता है।

हलवा रस्म के दौरान वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण मौजूद रहीं और उनके साथ अनुराग ठाकुर भी दिखे। समाचार एजेंसी ने यह जानकारी दी है।

समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक, वित्त मंत्रालय के अधिकारियों के साथ वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने हलवा रस्म पूरा किया। जिसके बाद खुद निर्मला सीतारमण ने हलवा का स्वाद चखा। साथ ही अन्य अधिकारियों ने भी हलवा खाया।

क्‍या होती है हलवा सेरेमनी?

भारतीय परंपरा के अनुसार, किसी भी शुभ काम की शुरुआत से पहले लोगों का मुंह मीठा कराया जाता है। इसीलिए बजट बनाने की प्रकिया में भी हलवा सेरेमनी की शुरुआत हुई। इस अवसर पर वित्‍त मंत्री स्‍वयं प्रिंटिंग प्रेस से जुड़े कर्मचारियों और अधिकारियों को हलवा बांटकर प्रिंटिंग पक्रिया की शुरुआत करते हैं। इसके बाद वित्‍त मंत्रालय के लगभग 100 कर्मचारी नॉर्थ ब्‍लॉक के बेसमेंट में बने प्रिंटिंग प्रेस में अगले कुछ दिनों तक दुनिया से बिल्‍कुल कट कर रहते हैं।

बजट पेश होने तक दुनिया से बिल्‍कुल कटे रहते हैं कर्मचारी

देश के बजट की प्रिंटिंग सबसे गुप्‍त ऑपरेशंस में से ए‍क है। बजट से जुड़ी जानकारियां काफी महत्‍वपूर्ण होती हैं और इनके लीक होने से सरकार पर भी सवाल खड़े हो सकते हैं। इस दौरान कर्मचारी अपने परिवार या दोस्‍तों से न तो मिल सकते न ही बात कर सकते हैं। प्रिंटिंग प्रेस में एक लैंडलाइन फोन होता है जिसमें सिर्फ इनकमिंग की सुविधा होती है। इसके अलावा, गिने-चुने अधिकारियों के अलावा यहां किसी को आने की अनुमति नहीं होती है।

Special Coverage News
Next Story
Share it