Home > व्यवसाय > पहली बार डॉलर का भाव हुआ 72 रुपए के पार, इन चीजों के महंगा होने की बढ़ी आशंका

पहली बार डॉलर का भाव हुआ 72 रुपए के पार, इन चीजों के महंगा होने की बढ़ी आशंका

डॉलर के मुकाबले रुपया 34 पैसे घटकर 72.09 के नए निचले स्तर तक लुढ़क गया जो इसका अबतक का सबसे निचला स्तर है।

 Arun Mishra |  2018-09-06T13:19:07+05:30  |  दिल्ली

पहली बार डॉलर का भाव हुआ 72 रुपए के पार, इन चीजों के महंगा होने की बढ़ी आशंका

नई दिल्ली : भारतीय करेंसी रुपए की गिरावट थमने का नाम नहीं ले रही है, गुरुवार को डॉलर के मुकाबले रुपए ने गिरावट का नया रिकॉर्ड बनाया है। डॉलर के मुकाबले रुपया 34 पैसे घटकर 72.09 के नए निचले स्तर तक लुढ़क गया जो इसका अबतक का सबसे निचला स्तर है। रुपए की इस कमजोरी की वजह से महंगाई बढ़ने की आशंका बढ़ गई है।

कमजोर रुपए की वजह से देश में पेट्रोल और डीजल पहले ही महंगे मिल रहे हैं और अब रुपया और भी कमजोर हो गया है जिससे पेट्रोल और डीजल की कीमतों में और भी ज्यादा इजाफा होने की आशंका बढ़ गई है। देश में पेट्रोल और डीजल की खपत को पूरा करने के लिए डॉलर देकर विदेशों से कच्चा तेल खरीदा जाता है और डॉलर खरीदने के लिए अब ज्यादा रुपए चुकाने पड़ रहे हैं ऐसे में पेट्रोल और डीजल की महंगाई बढ़ने की आशंका मजबूत हो गई है।

रुपए की कमजोरी से सिर्फ पेट्रोल और डीजल ही महंगे नहीं हो रहे हैं बल्कि देश में आयात होने वाली तमाम वस्तुओं की लागत बढ़ गई है जिससे उनके महंगा होने की आशंका भी जताई जा रही है। पेट्रोलियम उत्पादों के बाद देश में सबसे ज्यादा आयात इलेक्ट्रोनिक्स के सामान का होता है और रुपया कमजोर होने की वजह से आयात होने वाले इलेक्ट्रोनिक्स के तमाम प्रोडक्ट यानि आयातित मोबाइल और टेलिविजन के दाम बढ़ने की आशंका बढ़ गई है।

देश में ज्यादा आयात होने वाले उत्पादों में खाने का तेल, कोयला, कैमिकल, महंगे रत्न, स्टील, इलेक्ट्रिकल मशीनें, ट्रांस्पोर्ट का सामान और प्लास्टिक का समान प्रमुख हैं और रुपए के सस्ता होने की वजह से इन तमाम वस्तुओं के महंगा होने की आशंका बढ़ गई है। इन सबके अलावा विदेश यात्रा, विदेश में पढ़ाई और विदेश से ली जाने वाली हर उस सेवा के लिए भी ज्यादा कीमत लगेगी जिसका भुगतान डॉलर में करना पड़ता है।

Tags:    
Arun Mishra

Arun Mishra

Special Coverage News Contributors help bring you the latest news around you.


Share it
Top