Top
Begin typing your search...

Yes Bank को लेकर वित्‍त मंत्री निर्मला सीतारमण का बड़ा ऐलान

वित्त मंत्री ने कहा, ''Yes Bank के खाताधारकों को डरने की जरूरत नहीं है, उनका पैसा सुरक्षित है।

Yes Bank को लेकर वित्‍त मंत्री निर्मला सीतारमण का बड़ा ऐलान
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
नई दिल्ली : एक बार फिर देश के किसी बड़े बैंक पर संकट के बादल गहराए हैं। सुबह-सुबह जब लोगों की नींद खुली तो सबसे पहले Yes Bank के ग्राहकों को एक बड़ा झटका लगा। हालांकि Yes Bank संकट पर वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण का एक बड़ा बयान आया है। निर्मला सीतारमण ने कहा कि खाताधारकों के पैसे पूरी तरह से सुरक्षित हैं। वित्त मंत्री ने ये भी कहा कि यस बैंक संकट पर RBI की नजर है।

वित्त मंत्री ने कहा, ''Yes Bank के खाताधारकों को डरने की जरूरत नहीं है, उनका पैसा सुरक्षित है। Yes Bank के रेसलूशन प्लान पर आरबीआई काम कर रहा है। आरबीआई ने सही फैसले लिए है और मैंने खुद आरबीआई के साथ चर्चा की है। बैंक शाखा में नगदी की कमी है तो मैं आरबीआई को कहूंगी।'' उन्‍होंने विपक्ष पर पलटवार करते हुए कहा कि विपक्ष को कहने का अधिकार नहीं, जो टेलिफोन बैंकिंग चला रहे थे, जिसके चलते ये समस्या हुई। वित्‍त मंत्री ने साफ किया कि लोगों के पैसे पर कोई आंच नहीं आएगी।

हालांकि यह भी समझना होगा कि Yes Bank में जिन ग्राहकों के पैसे हैं और वह सिर्फ एक सीमा तक ही निकाल सकते हैं, उसपर रोक क्‍यों लगाई गई है। आरबीआई ने इसके पीछे एक तर्क दिया है जिसको जानना हर ग्राहक के लिए बहुत ही जरूरी है।

कितना बड़ा है Yes Bank

Yes Bank के पास फिलहाल दो लाख करोड़ से ज्यादा का डिपोजिट है।

बैंक के पास करीब 26 लाख ग्राहकों के सेविंग्स अकांउट हैं।

ग्राहक कब निकाल सकेंगे पैसा, क्या ग्राहकों का जमा पैसा डूब जाएगा ?

जब बैंक इस संकट से उबर जाएगा तो ग्राहक आसानी से अपना पैसा निकाल सकते हैं।

ग्राहकों को परेशान होने की कोई जरूरत नहीं, उनका पांच लाख तक का पैस पूरी तरह सुरक्षित।

आरबीआई अभी इसके मर्जर और इसे उबारने के लिए काम कर रहा है।

शेयरधारकों का क्या होगा ?

आरबीआई ने पहले ही Yes Bank को सचेत किया था।

आरबीआई ने जितने बैंकों के साथ इस तरह की कार्रवाई की है उनमें देखा गया है कि शेयरधारकों को नुकसान की भारपाई की गई है।

Yes Bank से पैसा निकालने पर रोक क्यों ?

मिली जानकारी के अनुसार, Yes Bank पर बहुत ज्यादा बैड लोन है और उसके पास लोन चुकाने के लिए प्रयाप्त राशि नहीं है। आरबीआई ने लोन चुकाने और नुकसान की भारपाई के लिए Yes Bank को एक समय सीमा दी है, जिसको वह पूरा नहीं कर पाया, जिसके बाद ऐसा हुआ। आरबीआई ने साफ किया है कि उसने Yes Bank से 3 अप्रैल तक 50 हजार रुपये की निकासी पर रोक लगाने का फैसला पूरी तरह से सोच समझ के लिया है। खबर के अनुसार, अगर बैंक से बल्क में मोटा पैसा ग्राहक निकालता है तो ये बैंक के लिए नुकसान दायी होगा, जिस वजह से ऐसा किया गया है।

Yes Bank संकट का असर सीधा-सीधा ग्राहकों पर पड़ा है। अकाउंट होल्डर फिलहाल 50 हजार रुपये से ज्यादा नहीं निकाल पाएंगे, जिसके बाद देश भर के Yes Bank ग्राहकों में डर कायम हो गया है और शहरों में Yes Bank के एटीएम में ग्राहकों की कतारें देखी जा रही हैं। खबर सामने आने के बाद Yes Bank के शेयरों में भी भारी गिरावट देखने को मिली है। हालांकि इस संकट के बावजूद Yes Bank के ग्राहकों को घबराना नहीं चाहिए, क्योंकि सरकार ने एक ऐसा प्रावधान किया है जिससे बैंक के डूबने पर ग्राहकों का पैसा सुरक्ष‍ित रहता है।

Yes Bank से अभी आप कितने पैसे निकाल सकते हैं

आरबीआई के फैसले के बाद Yes Bank का कोई भी ग्राहक 50 हजार से ज्यादा की निकासी नहीं कर सकता। ग्राहक तीन अप्रैल तक 50 हजार तक की निकासी कर सकता है। हालांकि विकट परिस्थिति में ग्राहक 5 लाख तक की निकासी कर सकता है, चाहे वो शादी हो, उच्च शिक्षा की बात हो या अन्य जरूरी काम।

इसके अलावा वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बजट में कहा था कि DICGC को 'प्रति अकाउंट' डिपॉजिट इंश्योरेंस की सीमा 1 लाख रुपये से बढ़ाकर 5 लाख रुपये किए जाने की अनुमति है। जिसके बाद यह साफ है कि अगर देश में कोई बैंक डूबता है तो आपको 5 लाख रुपये दिए जाएंगे।

Arun Mishra

About author
Sub-Editor of Special Coverage News
Next Story
Share it