Home > राज्य > दिल्ली > मां के प्रेमी ने ले ली पांच साल के मासूम की जान, पिता से कहा था, मेरे दूसरे पापा आ गए हैं!

मां के प्रेमी ने ले ली पांच साल के मासूम की जान, पिता से कहा था, 'मेरे दूसरे पापा आ गए हैं!'

मामले का पता जब चला जब उसके पापा उसकी मम्मी को अपने घर ले जाने के लिए आये थे तो उनके बेटे युवान ने बोला मेरे दूसरे पापा आ गए?

 Special Coverage News |  16 Jan 2019 5:25 AM GMT  |  दिल्ली

मां के प्रेमी ने ले ली पांच साल के मासूम की जान, पिता से कहा था,

नई दिल्ली : जब कोई धरती पर जन्म लेता है तो उसको अपने माता पिता के साथ भावानात्मक रिश्ता होता है, और यह आखरी सांस तक रहता है। औरत का सबसे बेशकीमती धन उसकी चिराग रूपी औलाद होते हैं। अगर बेटे पर जरा सी भी आंच आ जाए तो वह किसी भी हद तक जा सकती है,लेकिन कई बार ऐसे मामले सामने आते है जो मां बेटे के रिश्ते को कंलकित करते नजर आते है।

हाल ही में एक ऐसा मामला सामने आया है जिसने मानवता को झंकझोर कर रख दिया। मिली जानकारी के मुताबिक, प्यार में अंधी एक मां ने अपने ही बेटे को मार डाला। मृतक की पहचान युवान सिंह के रूप में हुई है। कापसहेड़ा पुलिस ने हत्या और साजिश रचने की धाराओं में केस दर्ज कर आरोपी रानी और उसके प्रेमी नरेंद्र को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है।

क्या है पूरा मामला?

मां प्यार में इतना अंधी हो गईं कि अपना मासूम बच्चा भी नही दिखा। पारिवारीजनों के मुताबिक, दरअसल, मामले का पता जब चला जब उसके पापा उसकी मम्मी को अपने घर ले जाने के लिए आये थे तो उनके बेटे युवान ने बोला मेरे दूसरे पापा आ गए। माँ को शक हुआ कि ये अपने पापा को सारी बातें बता देगा। इससे पहले कि ये राज खुल जाए प्रेमिका माँ ने अपने प्रेमी के साथ मिलकर उस मासूम बच्चे को बड़े ही बेदर्दी से मौत के घाट उतार दिया।

आपको बता दें प्रेमिका मां अच्छी खासी पढ़ी-लिखी बीएड है और स्कूल में टीचर है। प्रेमी जो कि एक ही स्कूल में एक साथ पढाते थे। स्कूल का नाम क्रिस्टोल था। वहीं से इनकी लव स्टोरी शुरू हुई। जिसको लेकर प्रेमिका अपने घर में बात बात पे लड़ाई झगड़े करने लगी और उस बच्चे पे जुल्म ढाती थी। इसी तरह लड़ाई का सिलसिला बरकरार था और एक दिन वो अपने प्रेमी के साथ अपने बच्चे को लेकर चली गयी। ससुराल वालों को ये बता दिया कि पीजी में रह रही हूँ। इस बात का खुलासा जब हुआ जब उस बच्चे के पिता उस बच्चे से मिलने गए। प्यार का कुछ ऐसा रंग चढ़ा उस प्रेमिका माँ को अपना ही मासूम बच्चा नज़र नही आया और माँ की ममता पे कलंक लगा दिया।

पड़ोसियों ने क्या कहा?

स्थानीय निवासियों का कहना है कि प्रेमी माँ करीब 8 महीने से अपने प्रेमी के साथ दिल्ली के समालखा में रह रही थी। निवासियों के कहना है इनके गांव भरताल में सब खुशी से अपने परिवार के साथ रहते थे। अचानक अपने परिवार मे विवाद कर के अपने प्रेमी के साथ पिछले 8 महीनों से रहने लगी।

डीसीपी ने क्या कहा?

दक्षिण-पश्चिमी जिला डीसीपी देवेंद्र आर्या ने बताया कि आरोपी नरेंद्र ने कहा है कि वह पांच वर्षीय बच्चे युवान को पढ़ने के लिए कह रहा था। वह नहीं माना तो उसने युवान को पीटना शुरू कर दिया। उसने बच्चे को जमकर लात-घूंसे मारे। इसके बाद भी मन नहीं भरा तो उसे उठाकर दीवार में दे मारा। मृतक बच्चे के पिता यूपी के इलाहाबाद निवासी सूर्यप्रताप सिंह ने कापसहेड़ा थाने में हत्या, आपराधिक साजिश आदि धाराओं में मामला दर्ज कराया है।

पिता ने क्या की शिकायत?

सूर्यप्रताप सिंह ने पुलिस को दी शिकायत में कहा है कि वर्ष 2012 में उसकी शादी रानी सिंह के साथ हुई थी। वह ब्रिजवासन के क्रिस्टोस स्कूल में पढ़ाती थी। उसके संबंध वहीं काम करने वाले नरेंद्र से बन गए। रानी युवान उर्फ युवी को लेकर अप्रैल, 2018 में समालखा गांव में नरेंद्र के साथ रहने चली गई थी। उसके कहने पर रानी युवान को उससे मिलवाने सेक्टर-21 द्वारका मेट्रो स्टेशन पर लाती थी। युवान हमेशा नरेंद्र के मारपीट करने की बात कहता था। दस जनवरी को रानी ने उसे फोन कर बताया कि युवान कोलंबिया अस्पताल में भर्ती है। अस्पताल में डॉक्टरों ने जवाब दे दिया तो युवान को दूसरे अस्पताल में भर्ती कराया।

सूर्यप्रताप के मुताबिक वह भाई अभिनेख के साथ अस्पताल पहुंचा तो युवान वेंटीलेटर पर था। रानी ने उसे बताया कि युवान ने लड्डू खाए थे और वह बेहोश होकर बाथरूम में गिर गया था। उसे लगा कि बाथरूम में गिरने से इतनी चोटें कैसे लग सकती हैं। 12 जनवरी को युवान की मौत हो गई थी। पुलिस ने सोमवार को युवान का पोस्टमार्टम कराया तो पता लगा कि उसकी हत्या की गई थी। इसके बाद कापसहेड़ा थानाध्यक्ष सुवीर ओजस्वी की देखरेख में एसआई मोहित और राजकुमार की टीम ने नरेंद्र को इलाके से गिरफ्तार कर लिया।

अजीत रावत की रिपोर्ट

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Next Story
Share it
Top